arrested
(फाइल फोटो)

Loading

नागपुर. चालक को शराब पिलाकर धोखे से कार लेकर भागने वाले 2 आरोपियों को क्राइम ब्रांच के यूनिट 3 की टीम ने हैदराबाद से गिरफ्तार किया है. पकड़े गए आरोपियों में दुंडीगल, साइबराबाद निवासी कानाकुर्ती पूर्णाचंद्राराव केसवैया (37) और बोलाराम, हैदराबाद निवासी पुष्परेड्डी कार्तिक सरकेश्वरराव (30) का समावेश हैं.

कोतवाली पुलिस ने सुंदरनगर पारडी निवासी राहुल राजेश शर्मा (24) की शिकायत पर मामला दर्ज किया था. राहुल ओला एप पर अपनी कार चलाता है. विगत 19 जनवरी को वह रेलवे स्टेशन के समीप सवारी मिलने का इंतजार कर रहा था. इसी दौरान दोनों आरोपियों ने उसे रोका. तेलंगाना जाने का भाड़ा पूछा. राहुल ने 12 रुपये प्रति किलो मीटर किराया बताया.

आरोपी गाड़ी में सवार हो गए और कहा कि तेलंगाना निकलने से पहले उन्हें शराब पीनी है. राहुल उन्हें जगनाड़े चौक के समीप स्थित संग्राम बार में ले गया. वहां आरोपियों ने उसे भी साथ बैठकर शराब पीने का आमंत्रण दिया. दोनों आरोपियों के साथ राहुल ने भी शराब पी. बार से निकलते समय ज्यादा नशा होने के कारण एक आरोपी ने कार की चाबी मांगी और उसे कुछ देर आराम करने को कहा. आरोपियों ने राहुल को लकड़गंज परिसर में छोड़ दिया. उसकी कार और फोन लेकर भाग गए.

दूसरे दिन राहुल ने मामले की शिकायत पुलिस से की. क्राइम ब्रांच की टीम भी जांच में जुटी थी. पुलिस ने परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे और टोल नाकों की फुटेज खंगाली. 2 राज्यों तक आरोपियों का पीछा किया. शुक्रवार को पुलिस ने दोनों आरोपियों को हैदराबाद से गिरफ्तार किया. आगे की जांच के लिए उन्हें कोतवाली पुलिस को सौंपा गया.

पुलिस का अनुमान है कि आरोपी कोई बड़ा रैकेट चलाते हैं. चालक को शराब पिलाकर वाहन लेकर भाग जाते हैं. आरोपी राहुल की कार बेचने की तैयारी में थे लेकिन इसके पहले ही पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. सब इंस्पेक्टर देवकाते, हेड कांस्टेबल मुकेश राऊत, प्रवीण लांडे, अनूप तायवाड़े, अमोल जासूद, विनोद गायकवाड़ और संतोष चौधरी ने कार्रवाई को अंजाम दिया.