50 bribery traps, police and revenue tops in 5 months

    नागपुर. इनकम सर्टिफिकेट देने के लिए 70 रुपये की रिश्वत मांगने वाले सेतू कार्यालय के कंप्यूटर ऑपरेटर को एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने रंगेहाथ गिरफ्तार किया.पकड़ा गया आरोपी पवन एकनाथ बिनेकर (31) बताया गया. शिकायतकर्ता इतवारी के रहने वाले और व्यवसाय करते हैं. उनकी बेटी 12वीं कक्षा में पढ़ती है. स्कॉलरशिप के लिए उसे कॉलेज में इनकम सर्टिफिकेट जमा करवाना था. इसके लिए शिकायतकर्ता ने तहसील कार्यालय में आवेदन दिया था.

    सोमवार को वे सेतू कार्यालय गए और आवेदन की फीस भर दी. पवन ने उन्हें शुल्क की रसीद दी. सर्टिफिकेट कब मिलेगा पूछने पर पवन ने कहा यदि जल्दी काम करवाना है तो उसे 70 रुपये अलग से देने पड़ेंगे. पीड़ित व्यक्ति ने प्रकरण की शिकायत एसीबी से की. इंस्पेक्टर नितिन बलिगवार ने मंगलवार को सेतू कार्यालय परिसर में ट्रैप लगाया.

    पवन ने तुरंत सर्टिफिकेट देने के लिए 70 रुपये की मांग की. जैसे ही उसने फरियादी से रकम ली एसीबी की टीम ने दबोच लिया. उसके खिलाफ सदर थाने में मामला दर्ज किया गया है. एसपी राकेश ओला और एडिश्नल एसपी मिलिंद तोतरे के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर नितिन बलिगवार, हेड कांस्टेबल अशोक बैस, सारंग बालपांडे. कांचन गुलबासे और शारिक शेख ने कार्रवाई को अंजाम दिया.