FILE-PHOTO
FILE-PHOTO

Loading

नागपुर. शिवसेना यूबीटी के नेता व पूर्व मंत्री आदित्य ठाकरे ने दावा किया कि इस सरकार को राज्य में हार का डर सता रहा है इसलिए कोई चुनाव घोषित नहीं किया जा रहा. उन्होंने कहा कि 5 राज्यों में चुनाव की घोषणा हो गई है लेकिन महाराष्ट्र में लोस की 2 रिक्त हुई सीटों पर चुनाव की घोषणा नहीं की गई. इतना ही नहीं स्थानीय निकाय चुनावों में महानगरपालिका व जिला परिषद के चुनाव लटका कर रखे गए हैं. प्रशासक बिठा कर प्रशासन चलाया जा रहा है. वे नागपुर एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बात कर रहे थे.

नागपुर मेडिकल के दौरे पर आए ठाकरे के साथ विरोधी पक्षनेता अंबादास दानवे और विनायक राऊत भी थे. उन्होंने कहा कि चंद्रपुर सांसद बालू धानोरकर और पुणे के गिरीश बापट का निधन होने से दोनों सीटें रिक्त हैं लेकिन उपचुनाव के बारे में कुछ नहीं किया जा रहा है.

जुड़ेगा भारत, जीतेगा इंडिया

सवालों के जवाब में ठाकरे ने कहा कि राज्य में सत्ता की कुर्सी के लिए जिस तरह की धोखेबाजी की गई उससे जनता में भी रोष है. चुनाव के दौरान यह गुस्सा जनता अपने वोटों से व्यक्त करेगी. सत्तासीन लोगों को यह पता है कि जनता उन्हें सबक सिखाएगी इसलिए चुनाव ही नहीं करवाये जा रहे हैं. उन्होंने महागठबंधन के संदर्भ में कहा कि पूरे देश में सत्ता परिवर्तन की लहर है. 2024 के चुनाव में जुड़ेगा भारत और जीतेगा इंडिया. ठाकरे पूर्व पालक मंत्री नितिन राऊत के निवास पर उन्हें जन्मदिन की बधाई देने भी पहुंचे.