हाथ के धागे से की महिला चोर की पहचान; GRP क्राइम ब्रांच ने की कार्रवाई, 1.20 लाख के गहने बरामद

    नागपुर. लोहमार्ग पुलिस की क्राइम ब्रांच ने बल्लारशाह-गोंदिया मेमू ट्रेन में महिला यात्री के 1.20 लाख रुपये के गहने चोरी के मामले में एक महिला चोर को सिर्फ उसके हाथ में बंधे धागे से पहचान कर धरदबोचा. आरोपी बाम्हणी, तह-उमरेड, जिला नागपुर निवासी प्रिया अनिल मानकर (21) बताई गई. उसके पास से चोरी किए सारे गहने बरामद कर लिए गए.

    उल्लेखनीय है कि प्रिया ने यह चोरी ट्रेन में करीब 15 दिनों पहले की थी. चंद्रपुर निवासी प्रीति भगवानदास नंदेश्वर (59) एक विवाह समारोह में शामिल होने बाद वापस घर जा रही थीं. इसी दौरान ट्रेन में सवार प्रिया ने चांदाफोर्ट स्टेशन के पास प्रीति का पर्स चोरी कर लिया जिसमें सोने के 2 हार थे जिनकी कुल कीमत 1.20 लाख रुपये थी. चांदाफोर्ट स्टेशन इतवारी जीआरपी थाने के अधिकार क्षेत्र में होने के कारण मामला क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया था. 

    मुंह पर स्कार्फ, हाथ पर बंधा धागा बना पहचान

    मामला दर्ज होते ही जीआरपी क्राइम ब्रांच ने आरोपी की तलाश शुरू कर दी. बल्लारशाह से लेकर गोंदिया तक हर स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देखे लेकिन किसी में भी कोई संदिग्ध नहीं दिखा. इसी बीच ट्रेन के कोच में लगे कैमरे में मुंह पर स्कार्फ बांधे लड़की दिखाई दी. उसके पैरों में चप्पल नहीं थी.

    वह चांदाफोर्ट स्टेशन के एफओबी पर लगे सीसीटीवी कैमरे में भी नजर आई लेकिन स्कार्फ होने से उसका चेहरा नहीं दिख रहा जिससे उसकी पहचान होना संभव नहीं था. ऐसे में जांच में लगे जीआरपी कर्मियों ने संदिग्ध महिला के हाथ में बंधे धागे और चाल को ध्यान देखा. इसके बाद अपने गुप्त सूत्रों से ऐसी महिला के बारे में जानकारी हासिल करना शुरू किया. करीब 15 दिनों की कड़ी मेहनत के बाद प्रिया के बारे में पता चला. हिरासत में लेने के बाद उसके हाथ पर वही धागा बंधा मिला जो सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग में दिख रहा था.

    पुलिसिया तरीके से पूछताछ में उसने चोरी कबूली. उसे गिरफ्तार कर चोरी किए सोने के दोनों हार बरामद कर लिए गए. यह कार्रवाई जीआरपी के पुलिस अधीक्षक एम. राजकुमार, अपर पुलिस अधीक्षक वैशाली शिंदे, क्राइम ब्रांच के पीआई विकास कानपिल्लेवार के मार्गदर्शन में राचलवार, महेन्द्र मानकर, सहारे, विनोद खोब्रागडे, अविन गजवे, मंगेश तितरमारे, राऊत, भानारकर, मेघा अवतारे आदि ने की.