bjp

    नागपुर. ओबीसी को राजकीय आरक्षण दिए जाने की मांग को लेकर बुधवार को भाजपा की ओर से राज्यभर में आंदोलन किया गया. सिटी में 6 जगहों पर आंदोलन कर सरकार के प्रति अपना रोष व्यक्त किया गया. प्रदेश महामंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने ओबीसी को राजकीय आरक्षण मिलने तक संघर्ष जारी रखने की घोषणा की.  इस अवसर पर ‘ओबीसी के सम्मान में, भाजपा मैदान में’ नारा लगाते हुए अधिकार की लड़ाई के लिए संघर्ष करते रहने का आह्वान किया गया. 

    दक्षिण नागपुर में मानेवाड़ा चौक पर बावनकुले, शहर अध्यक्ष विधायक प्रवीण दटके, मोहन मते के नेतृत्व में नारेबाजी की गई. दक्षिण-पश्चिम नागपुर में पडोले चौक नागोबा मन्दिर के पास विधायक रामदास अंबटकर के नेतृत्व में आंदोलन किया गया. युवा मोर्चा शहर अध्यक्ष पारेन्द्र पटले के नेतृत्व में सरकार का पुतला दहन किया गया. उत्तर नागपुर में कांजी हाउस चौक पर प्रभाकर येवले, वीरेंद्र कुकरेजा, भोजराज डुम्बे, सजंय चौधरी, प्रभाकर येवले, भोलनाथ सहारे, कमलेश चकोले, अशोक मेंढे, जीतू ठाकुर के अलावा नगरसेवक महिला पुरुष उपस्थित थे.

    जारी रहेगा संघर्ष 

    पूर्व नागपुर में झाड़े चौक प्रदेश उपाध्यक्ष संजय भेंडे, प्रमोद पेंड़के, संजय अवचट, रामभाऊ अम्बुलकर, बाल्या बोरकर, मनोहर चिकटे, उप महापौर मनीषा धावड़े के नेतृत्व में पुतला दहन किया गया. मध्य नागपुर में झंडा चौक पर जोरदार आंदोलन किया गया. आंदोलन में  विधायक गिरीश व्यास, महापौर दयाशंकर तिवारी, पूर्व महापौर अर्चना डेहनकर आदि उपस्थित थे. वहीं पश्चिम नागपुर के गिट्टीखदान चौक पर सुधाकर देशमुख ने कहा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ओबीसी के साथ न्याय किया लेकिन आघाड़ी सरकार के कुछ लोगों ने एक षड्यंत्र के तहत न्यायालय में चुनौती दी.

    मौजूदा सरकार ने उच्चतम न्यायलय में वकील ही खड़ा नहीं किया जिससे फड़णवीस सरकार द्वारा दिए गए आरक्षण को समाप्त किया गया. आंदोलन में  विट्ठल भेदे, संजय ठाकरे, किशोर वानखेड़े, उपेन्द्र कोठेकर, अविनाश ठाकरे, पूर्व महापौर नंदा जिचकार, प्रकाश भोयर, रमेश सिंगारे, बंडू राऊत, श्रद्धा पाठक आदि ने हिस्सा लिया.