GMCH

    नागपुर. शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय व अस्पताल डॉक्टरों व मरीजों के बीच बहस, मारपीट अब आम बात होने लगी है. इस बीच मंगलवार को आर्थोपेडिक विभाग की ओपीडी इलाज में देरी को लेकर मरीज के परिजनों और निवासी डॉक्टर के बीच मारपीट हो गई.

    बताया गया कि एक मरीज पिछले 2-3 दिनों से भर्ती है लेकिन मरीज के पास कोई भी परिजन नहीं रुकता. इस वजह से डॉक्टरों को भी इलाज में दिक्कतें आ रही है. इस बीच निवासी डॉक्टर ने परिजनों को बताया कि वे रात के वक्त रुके और वरिष्ठ डॉक्टर से चर्चा करे. ताकि आगे की प्रक्रिया पूरी करने में मदद मिल सकें लेकिन परिजन डॉक्टर पर ही सवार हो गये. उनका कहना था कि मरीज के देखभाल की जिम्मेदारी डॉक्टर की है.

    इसी बात को लेकर बहस हो गई. परिजनों ने एक निवासी डॉक्टर के साथ धक्का-मुक्की करते हुए तमाचा जड़ दिया. ओपीडी में मचे बवाल के बाद तुरंत ही महाराष्ट्र सुरक्षा बल के जवानों ने परिजनों को पकड़ लिया और उन्हें अजनी थाने लेकर गए. जहां डॉक्टर ने परिजनों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी विभाग में एक ब्रदर के साथ मारपीट की गई थी.