PTI Photo
PTI Photo

    नागपुर. महानगरपालिका की ओर से पर्यावरण संवर्धन की दृष्टि से इस वर्ष तालाबों में गणेश मूर्तियों के विसर्जन पर पूरी तरह से पाबंदी लगाई गई है. अब लोगों को उनके आवासों के आसपास विसर्जन की सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए सभी जोन में कृत्रिम मोबाइल विसर्जन कुंड की व्यवस्था की गई है.

    शुक्रवार को गांधीबाग जोन में महापौर दयाशंकर तिवारी और जोन सभापति श्रद्धा पाठक ने मोबाइल विसर्जन कुंड के वाहन को हरी झंडी दिखाई. कार्यकारी अभियंता धनंजय मेंढुलकर, प्रकाश गायधने, सुरेश खरे, दिलीप वंजारी, विपिन समुद्रे, अशोक अंबागडे, दीपक रंगारी, पी.पी. डुडुरे, योगेश नागे, आकाश समुद्रे, ज्योति काले, रवि शेंडे, संजय भोसले आदि उपस्थित थे. 

    2012 से चल रही संवर्धन की मुहिम

    महापौर दयाशंकर तिवारी ने कहा कि प्राकृतिक जल स्रोतों के संवर्धन के लिए महानगरपालिका 2021 से मुहिम चला रही है. इसी तर्ज पर इस वर्ष तालाबों में मूर्तियों के विसर्जन पर पांबदी लगाई गई. लोगों को किसी तरह की परेशानी न हो, इसके लिए सभी जोन में चलता-फिरता विसर्जन कुंड तैयार किया गया.

    मनपा की पर्यावरण संवर्धन की मुहिम को सहयोग करने तथा बप्पा का विसर्जन कृत्रिम मोबाइल कुंड में करने की अपील भी उन्होंने की. मोबाइल कुंड के लिए टोल फ्री नंबर जारी किया गया है जिससे लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं होगी. गांधीबाग जोन में ही 26 कृत्रिम कुंड की व्यवस्था की गई है. घर के सामने ही पारंपरिक पद्धति से विसर्जन कर सके, इसके लिए व्यवस्था की गई है. 9767242928 पर सम्पर्क कर गांधीबाग जोन अंतर्गत जनता इसका लाभ उठा सकती है.