Old Bhandara Road

  • गडकरी और HC की भी नहीं सुनते

नागपुर. पुराना भंडारा रोड के नाम से पहचाने जानेवाले नेशनल हाईवे नंबर 6 पर मेयो अस्पताल से लेकर सुनील होटल तक का काम पिछले 21 वर्षों से लटका हुआ है. यह मार्ग कब बनेगा यह सवाल अब लोग पूछने लगे हैं. इस संदर्भ में हाईकोर्ट के अलावा केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी भी मनपा प्रशासन को निर्देश दे चुके हैं, बावजूद इसके मनपा प्रशासन के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही है.

आघाड़ी ने सौंपा ज्ञापन

इस संबंध में मध्य नागपुर विकास आघाड़ी की ओर से हालही में निगमायुक्त राधाकृष्णन को ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन सौंपते वक्त आघाड़ी के अध्यक्ष भूषण दड़वे व स्थाई समिति के पूर्व अध्यक्ष रवि पैगवार उपस्थित थे. 

ज्ञापन में बताया गया कि हाईकोर्ट के आदेश की 39 महीनों से मनपा प्रशासन अवहेलना कर रहा है. पुराने भंडारा रोड पर मेयो अस्पताल चौक से शहीद चौक होते हुए सूनील होटल तक 60 फीट के डीपी रोड का काम आरंभ करने के लिए 158 संपत्तियों को अधिग्रहित करने की मांग उपायुक्त मिलिंद मेश्राम व पूर्व महापौर प्रवीण दटके, सहायक आयुक्त गांधीबाग जोन 6 व संतरजीपूरा जोन क्रमांक 7 से लिखित में निवेदन देकर की गई थी. 

करें आदेश का पालन

साथ ही इस संबंध में हाईकोर्ट के आदेशों का पालन करने की भी मांग की गई थी. इस मार्ग के निर्माण की सारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. 41 लोगों ने रजिस्ट्री कर कब्जा पत्र भी मनपा को दिया है. 60 फीट के इस डीपी रोड को 7 जनवरी 2000 में मंजूरी मिली थी.  पिछले 21 वर्षों से मनपा प्रशासन की नीति टालमटोलवाली रही है. इस वजह से आम नागरिकों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. 

बीता 39 माह का समय

2014 में दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट की डबल बेंच के न्यायाधीश बी. पी. धर्माधिकारी व न्यायाधीश रोहित देव ने 19 जुलाई 2017 में मनपा को 3 माह के भीतर रोड का निर्माण कार्य आरंभ करने के आदेश दिए थे. इस आदेश को भी 39 माह का समय बीत जाने के बाद भी मनपा प्रशासन का रवैया उदासीन बना हुआ है.