coronavirus

नागपुर. कोरोना मरीजों की संख्या एक बार फिर बढ़ती दिखाई दे रही हैं. पिछले कुछ दिनों से हर दिन की रिपोर्ट में 300 संक्रमित आ रहे थे, लेकिन गुरुवार को चौबिस घंटे के भीतर 393 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. कुल 4966 लोगों की जांच में इतने संक्रमित निकले हैं. करीब महीनेभर बाद संख्या बढ़ी है. यही वजह है कि डाक्टरों ने लोगों से सतर्कता बरतने की अपील की है.

पिछले दिनों से संक्रमितों की संख्या कम हुई थी. लग रहा था कि अब कोरोना का वाइरस कमजोर हो रहा है. लेकिन गुरुवार को आई रिपोर्ट ने एक बार फिर खतरा बढ़ा दिया है. कुल संक्रमितों में सिटी के सबसे लोग है. अब तक जिले में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 123767 हो गई है. इस बीच विविध अस्पतालों में भर्ती 8 मरीजों की मौत हो गई. इसके साथ ही अब तक कुल 3930 लोगों की मौत हो चुकी है. फिलहाल जिले में 3782 एक्टिव केस मौजूद है. गुरुवार को 335 मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी गई. अब तक कुल 116055 लोग कोरोना मुक्त हो चुके हैं. 

खतरा अब भी बरकरार

डाक्टरों की माने तो कोरोना के खतरे से अभी मुक्ति नहीं मिली है. थर्टी र्फस्ट और नये वर्ष का स्वागत करने के लिए लोग बाहर सैर-सपाटे पर निकले हैं. रविवार,सोमवार तक अधिकांश लोग लौट आएगे. लेकिन यह लोग अपने साथ संक्रमण भी लेकर आ सकते हैं. वैसे भी कोरोना वाइरस शरीर में प्रवेश करने के बाद 7 दिनों बाद अपना असर दिखाता है. ठंड के दिनों में सर्दी,खांसी और जुकाम आम बात है. सर्दी होने पर प्राय: नाक से खुशबू आना बंद हो जाती है. कोरोना के शुरुआती लक्षण भी इसी तरह होते हैं. यही वजह है कि संदेह होने पर खुद को आयसोलेशन में रखकर तुरंत जांच कराने की सलाह डाक्टरों ने दी है.