Church
File Photo

  • मनपा आयुक्त ने जारी किए निर्देश

नागपुर. क्रिसमस त्योहार मनाने के लिए कोरोना के बावजूद लोगों ने जमकर तैयारियां की हैं. यहां तक कि प्रति वर्ष की तरह इस वर्ष भी त्योहार को मनाने की सभी ओर इच्छा जताई जा रही है, किंतु अब इस संदर्भ में मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी. ने नये दिशानिर्देश जारी किए हैं. जारी किए गए निर्देशों में ईसाई बंधुओं को क्रिसमस त्योहार इस वर्ष साधारण तरह से ही मनाने की अपील की गई है. यहां तक कि चर्च में प्रार्थना के दौरान 50 से अधिक की उपस्थिति न हो, इसकी पाबंदी भी लगाई गई और प्रार्थना के दौरान सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन भी सुनिश्चित करने की हिदायत दी गई है.

केवल 10 लोग एक साथ गा सकेंगे ईसा मसीह के स्तुति गीत

मनपा आयुक्त द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार चर्च में ईसा मसीह के स्तुति गीत गाने के लिए एक साथ केवल 10 लोगों का समावेश किया जा सकता है. इसमें भी सभी के पास अलग-अलग माइक की अनिवार्यता लागू की गई है. साथ ही सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन भी करना होगा. चर्च के बाहर एवं परिसर में किसी तरह की दूकान या स्टॉल नहीं लगाए जा सकेंगे. सुरक्षा की दृष्टि से 60 वर्ष से अधिक और 10 वर्ष से कम की उम्र के लोगों के लिए संभवत: ऑनलाइन प्रार्थना की सुविधा उपलब्ध कराई जानी चाहिए. आतिशबाजी करने पर भी पाबंदी लगाते हुए ध्वनि प्रदूषण के नियमों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए. इसके अलावा 31 दिसंबर को चर्च में आयोजित होनेवाली प्रार्थना सभा मध्यरात्रि तक न कर शाम 7 बजे तक या उसके पूर्व आयोजित करने की हिदायत भी दी गई.

रात 11 बजे तक शुरू रहेंगे होटल्स और रेस्टोरेन्ट

मनपा आयुक्त ने एक ओर जहां क्रिसमस मनाने के संदर्भ में दिशानिर्देश किए हैं, वहीं हाल ही में सिटी में लागू किए गए कर्फ्यू के नियमों को लेकर खुलासा करते हुए भी नये दिशानिर्देश जारी किए हैं. नये दिशानिर्देशों के अनुसार चूंकि राज्य सरकार ने रात 11 से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू और धारा 144 लगाने की घोषणा की है, अत: शहर के रेस्टोरेन्ट और होटल्स को रात 11 बजे तक शुरू करने की अनुमति प्रदान की गई है. अगले आदेश तक इन निर्देशों का पालन जारी रहने की सूचना भी दी गई.