Shiv Sena

    नागपुर. शिवसेना शहर प्रमुख नितिन तिवारी के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने कचरा चुनने वालों के साथ महानगरपालिका के सिविल लाइन्स स्थित कार्यालय में दस्तक दी. इस दौरान मनपा के अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी व घनकचरा उपायुक्त डॉ. महल्ले का घेराव किया गया.

    तिवारी ने बताया कि शहर का कचरा संकलित करने वालीं एजी तथा बीवीजी कंपनियों में कुछ कबाड़ी माफिया सक्रिय हो चुके हैं जो कंपनी के कर्मचारियों से मिलीभगत कर संकलित कचरे के भांडेवाड़ी डम्पिंग यार्ड आने से पहले ही उसमें से अवैध रूप से कबाड़ चुनकर अलग कर लेते हैं. फिर इसे बेचकर लाखों रुपये कमा रहे हैं. दूसरी ओर, डम्पिंग यार्ड में कचरा चुनकर घर चलाने वाले करीब 250 रैगपिकर्स की कमाई का रास्ता बंद हो गया है. इससे उन पर भूखो मरने की नौबत आ चुकी है. 

    बंद हो आर्थिक शोषण

    तिवारी ने कहा कि शहरभर से संकलित किए जा रहे कचरे से कबाड़ की चोरी का पता एजी और बीवीजी कंपनियों के अधिकारियों को भी है. यह एक प्रकार से यह रैगपिकर्स का आर्थिक शोषण है. उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि कंपनी द्वारा यह शोषण बंद नहीं किया गया तो शिवसेना द्वारा भांडेवाड़ी डम्पिंग यार्ड पर तीव्र आंदोलन किया जाएगा.

    उन्होंने रैगपिकर्स की स्वास्थ्य जांच और पीपीई किट देने की मांग की. सारी बात सुनने के बाद अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी ने तुरंत एक्शन लेने का आश्वासन दिया. साथ ही रैगपिकर्स की स्वास्थ्य जांच और पीपीई किट देने के निर्देश घनकचरा उपायुक्त महल्ले को दिये. इस दौरान मुन्ना तिवारी, अंकुश भोवते, पद्मा भोवते, ज्ञानलता गुप्ता, शिवशंकर मिश्रा, प्रीतम कापसे, शशिधर तिवारी, साबिर खान, लॉरेन्स ग्रेगरी, अब्बास अली समेत बड़ी संख्या में शिवसैनिकों की उपस्थिति रही.