Five-year-old Boy Mauled to Death by Stray Dogs as Sister Watched Horrific Sight In Nagpur

    नागपुर. मोहननगर में कुत्तों का आतंक बरकरार है. शिकायत करने के बावजूद एनएमसी के अधिकारी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं. भारतीय यात्री केंद्र के सचिव बसंतकुमार शुक्ला ने बताया कि आवारा कुत्तों के कारण शहरवासियों का जीना दूभर हो गया है. सुबह हो या शाम कभी भी वाहन चालक और पैदल चलने वाले व्यक्ति कुत्तों का शिकार बन रहे हैं. रात में तो सड़कों पर इनका ही राज होता है. उन्होंने बताया कि मोहननगर इलाके में आवारा कुत्तों से लोग सर्वाधिक परेशान हैं.

    स्टेशन से पास होने के कारण यहां नौकरीपेशा लोग रात में भी आवागमन करते हैं. मोहल्ले में करीब 30 कुत्ते हमेशा घूमते रहते हैं. मोहननगर के माता मंदिर से वंजारी माता मंदिर और बैंक ऑफ इंडिया से माता मंदिर तक कुत्ते अधिक संख्या में दिखाई देते हैं.

    यहां पर काफी लोग इनके शिकार हो चुके हैं. बच्चों के स्कूल चालू हो गए हैं. ऐसे में छोटे बच्चों को कुत्ते अपना शिकार बना सकते हैं. शुक्ला ने इस गंभीर समस्या से तत्काल निजात दिलाने की मांग की है.