CEOs Kumbhejkar gave instructions to make list

    नागपुर. जिला परिषद और पंस उप चुनाव की वोटिंग को सिर्फ 6 दिन बाकी हैं. 5 अक्टूबर को मतदान होना है. शासन ने चुनाव की सारी तैयारी पूरी कर ली है, वहीं दूसरी ओर सभी पार्टियों और निर्दलीय उम्मीदवारों का प्रचार जोरों से चल रहा है. नेताओं की प्रचार गाड़ियों की धूल ग्रामीण भागों में उड़ती देखी जा रही है. सभी पार्टी नेताओं और पदाधिकारियों का ओबीसी सीटों वाले सर्कल में गांव-गांव तूफानी दौरा शुरू हो गया है. एक ही दिन में अनेक गांवों को कवर किया जा रहा है. जिला परिषद की सत्ता में पुन: पूर्ण बहुमत को कायम रखने के लिए जहां कांग्रेस पूरा जोर लगा रही है, वहीं भाजपा भी अपनी सीटें बढ़ाने की कवायद में लगी हुई है. आरोपों-प्रत्यारोपों की बारिश प्रचार के दौरान हो रही है. जिप की 16 सीटों और पंस की 31 सीटों पर होने वाला यह चुनाव सभी पार्टियों के लिए चुनौती बना हुआ है. 

    स्थानीय नेताओं ने संभाली कमान

    उप चुनाव के प्रचार के लिए ग्रामीण भागों के नेताओं ने ही कमान संभाल रखी है. कांग्रेस के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र मुलक, मंत्री सुनील केदार का तूफानी दौरा चल रहा है तो राकां के जिलाध्यक्ष बाबा गूजर व पदाधिकारियों ने 5 सीटों में कमान संभाल रखी है. शिवसेना के लिए आशीष जायस्वाल, राजेन्द्र हरणे प्रचार कर रहे हैं. भाजपा के जिलाध्यक्ष अरविंद गजभिये और अन्य पदाधिकारी सभी 16 सीटों पर प्रचार में लगे हुए हैं. इनके अलावा शेकाप, आंबेडकर राइट पार्टी ऑफ इंडिया, प्रहार, वंचित बहुजन आघाड़ी  के उम्मीदवार भी इस चुनावी जंग में अपनी किस्मत आजमाने के लिए नागरिकों से वोटों की अपील कर रहे हैं. मात्र 6 दिनों में पूरे जिले की सभी सीटों में आने वाले एक-एक गांव को कवर करना पार्टी नेताओं के लिए चुनौती बना हुआ है. 

    जिप मुख्यालय में वीरानी

    चुनावी मौसम में जिला परिषद मुख्यालय में सभी पदाधिकारियों के कक्षों में वीरानी सी छायी हुई है. बीते 2 दिनों से कोई पदाधिकारी मुख्यालय नहीं आ रहा है. सभी अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं. ग्रामीण भागों से अपना काम करवाने आने वाले नागरिक भी फिलहाल यहां नहीं आ रहे हैं जिससे कार्यालय भी सुनसान देखे जा रहे हैं. सभी विभागों में शांति देखी जा रही है.

    5 को अवकाश घोषित

    5 अक्टूबर को होने वाले मतदान के लिए काटोल, नरखेड़, सावनेर, कलमेश्वर, रामटेक, पारशिवनी, मौदा, कामठी, उमरेड, भिवापुर, कुही, नागपुर ग्रामीण व हिंगना तहसील के मतदाता अपने वोटों का उपयोग कर सकें इसलिए सबंधित सर्कलों में स्थानीय अवकाश घोषित कर दिया गया है. जिलाधिकारी विमला आर. ने इसके आदेश जारी किए हैं.