Missing

    नागपुर. वाठोड़ा थानांतर्गत तरोड़ी गांव परिसर से अचानक 8 से 13 वर्ष की 4 लड़कियां लापता हो गई. इस घटना से पूरे परिसर में हड़कंप मच गया. एक साथ 4 बच्चियों के गायब से पुलिस भी सकते में आ गई. सीपी सहित पूरी फौज काम पर लग गई और रात 11 बजे के दौरान बच्चियों को ढूंढ निकाला गया. तब जाकर अधिकारियों ने राहत की सांस ली. शाम 6 बजे के दौरान चारों अपने घर से निकल गई. काफी देर तक घर नहीं पहुंचने पर परिजनों को चिंता हुई.

    जांच पड़ताल में पता चला कि चारों बच्ची परिसर से आटो में सवार हुई थी. इसके पहले आटोचालकों द्वारा रेलवे स्टेशन परिसर में नाबालिग से गैंगरेप किए जाने की घटना हो चुकी थी. इसीलिए सीपी अमितेश कुमार ने प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए आस-पास के सभी थानों और क्राइम ब्रांच के स्टाफ को खोज में जुटा दिया.

    खुद डीआईजी नविनचंद्र रेड्डी और डीसीपी अक्षय शिंदे थाने में मोर्चा संभाले हुए थे. सीपी लगातार वायरलैस पर खोज अभियान की जानकारी ले रहे थे. रात 11 बजे के दौरान चारों बच्ची छापरूनगर परिसर में पुलिस को मिली. सभी घबराई हुई थी इसीलिए पुलिस ने बहुत संवेदनशीलता से काम लिया और परिजनों को बुलाकर बच्चियों से पूछताछ की. बच्ची कब और कैसे छापरूनगर पहुंची इसकी जानकारी देर रात तक ली जा रही थी.