Maharashtra Palghar Police arrested self proclaimed godman, used to allegedly loot in the name of 'removing evil spirit'
प्रतीकात्मक तस्वीर

    नागपुर. दक्षिण-पूर्व-मध्य रेल नागपुर मंडल की रेलवे सुरक्षा बल कामठी द्वारा पर्स चोरी की शिकायत मिलने के 20 मिनट के भीतर ही 2 चोरों को धरदबोचा. आरोपियों में एक नाबालिग है जबकि दूसरे आरोपी का नाम अक्षय दीपक पात्रे बताया गया है. दोनों ही संतरापुरा, कन्हान के रहने वाले हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार सुबह करीब 10 बजे कामठी आरपीएफ थाने में कन्हान पिपरी निवासी बिलाल अहमद मोहम्मद यूसुफ सिद्दीकी पहुंचे. उन्होंने बताया कि कुछ देर पहले जब वह स्टेाशन के काउंटर पर टिकट बनवा रहे थे उसी दौरान किसी ने उनका पर्स चुरा लिया. पर्स में 4,700 रुपये और आधार कार्ड, क्रेडिट कार्ड समेत अन्य जरूरी कागजात थे. 

    CCTV में कैद हुई चोरी

    एएसआई मुगीसुद्दीन ने तुरंत सीसीटीवी रिकॉर्डिंग जांची तो बिलाल के पीछे खड़े 2 युवक चोरी करते दिखाई दिये. उन्होंने आरपीएफ जवान ओएस चौहान और ईशांत दीक्षित के साथ मिलकर चोरों की तलाश शुरू कर दी. कुछ ही देर बाद दोनों से नाबालिग आरोपी स्टेशन के प्लेटफार्म पर 1 के कन्हान छोर पर मिला जबकि दूसरा आरोपी अक्षय सर्कुलेटिंग एरिया में मिला. दोनों को दबोच कर आरपीएफ थाने लाया गया. उनकी तलाशी में अक्षय के पास 2,200 और नाबालिग आरोपी के पास से 2,500 रुपये मिले. इसके बाद जीआरपी को सूचित किया गया. 

    झाड़ियों में फेंका पर्स

    आरपीएफ और जीआरपी की संयुक्त पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्होंने बिलाल का पर्स चुराने के बाद उसमे मिले 4,700 रुपये आपस में बांट लिये. इसके बाद पर्स को झाड़ियों में फेंक दिया. तुरंत ही दोनों सुरक्षाबल के जवान बताई गई जगह पर पहुंचे और कुछ देर की तलाश के बाद पर्स मिल गया. उसमें बिलाल के नाम का ड्राइविंग लाइसेंस व अन्य जरूर कागजात और कार्ड आदि थे तुरंत ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जीआरपी के सुपूर्द कर दिया. इस पूरी कार्रवाई को केवल 20 मिनट लगे. यह कार्रवाई मंडल सुरक्षा आयुक्त पंकज चुघ और जीआरपी के पुलिस अधीक्षक एम. राजकुमार के मार्गदर्शन में  की गई.