Home Quarantine

  • पहले ही दिन सऊदी से पहुंचे 2 संदिग्ध भर्ती

नागपुर. कोरोना के नए स्ट्रेन के बाद केंद्र सरकार द्वारा जारी नए दिशा-निर्देश के अनुसार 25 नवंबर से 23 दिसंबर तक विदेश से आने वाले सभी यात्रियों की जानकारी निकालकर उनकी जांच करना अनिवार्य किया गया है. इस बीच मनपा प्रशासन ने वीएनआईटी कोविड सेंटर को फिर से क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील कर दिया है. अब इस सेंटर में विदेश से आने वाले यात्रियों को रखा जाएगा. शनिवार को दुबई से लौटे 2 युवाओं को सेंटर में लाया गया. दोनों दिल्ली होते हुए नागपुर एयरपोर्ट पहुंचे. अब 7 दिन बाद उनकी जांच की जाएगी.

मनपा ने वीएनआईटी के अलावा कुछ होटलों में भी क्वारंटाइन सेंटर बनाया है. वीएनआईटी में शासकीय स्तर पर सेवा दी जाएगी. सरकार द्वारा जारी नई गाइड लाइन्स के अनुसार जो यात्री पॉजिटिव मिलेंगे उन्हें हास्पिटल आइसोलेशन में रखा जाएगा. डिस्चार्ज के समय 14वें दिन उनकी दोबारा आरटीपीसीआर जांच अनिवार्य की गई है. यदि वे 14वें दिन पुन: पॉजिटिव आते है तो फिर 24 घंटे के भीतर जब तक दो नमूने निगेटिव नहीं आते उन्हें डिस्चार्ज नहीं दिया जाएगा. वीएनआईटी में रखे गए दोनों युवक दुबई से आए हैं. मंगलवारी सदर और नारी रोड के दोनों युवक है. वहीं 2 अन्य यात्रियों को होटल में रखा गया है.

पांचपावली में कोविड सेंटर 

अब मनपा की ओर कोविड सेंटर के रुप में पांचपावली को यथावत रखा गया है. जबकि पॉजिटिव मिलने वाले यात्रियों को सीधे मेडिकल में भेजा जाएगा. मेडिकल में विदेश से आने वालों को पृथक रखा जा रहा है. इन पॉजिटिव मरीजों को पहले से भर्ती मरीजों से संपर्क में नहीं रखने के निर्देश दिए गए हैं. इस बीच पता चला है कि 25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच विदेश से कुल 150 यात्री नागपुर आए हैं.

सभी जिले के रहने वाले है. मनपा को इनकी सूची दे दी गई है. अब मनपा द्वारा इन लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है. साथ ही इनके संपर्क में आने वालों को भी ट्रेस किया जा रहा है. यदि इनमें से कोई पॉजिटिव निकलता है तो उनके संपर्क में आने वाले 20 लोगों की जांच करना है. साथ ही अन्य लोगों का फॉलोअप भी करना अनिवार्य किया है.