Youth Congress

Loading

नागपुर. किसान बिलों को रद्द करने की मांग को लेकर युवक कांग्रेस ने सिटी में मशाल आक्रोश जुलूस निकाला. युकां राष्ट्रीय सचिव व नगरसेवक बंटी शेलके के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए. गांधी गेट महल में छत्रपित शिवाजी महाराज की प्रतिमा में माल्यार्पण कर मशाल जुलूस आंदोलन किया गया.

मोदी सरकार की तानाशाही के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई. पदाधिकारियों ने कहा कि यह सरकार किसानों का अस्तित्व पूरी तरह नष्ट करने और अपने पूंजीपति मित्र अदानी-अंबानी के हित के लिए किसान बिल को पारित किया है. यह काला कानून रद्द होना चाहिए. आंदोलन में तौसीफ खान, अभय रणदिवे, अजित सिंह, वसीम शेख, सागर चव्हाण, आकाश गुजर भी शामिल थे.

…तो संघ मुख्यालय पर प्रदर्शन

कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी कि अगर सरकार ने तीनों काले कानून को रद्द नहीं किया तो संघ मुख्यालय के सामने मशाल आंदोलन किया जाएगा. आंदोलन में अखिलेश राजन, अनमोल लोनारे, स्वप्निल ढोके, नावेद शेख, नयन तरवटकर,  सतीश पाली, हेमंत कातुरे, शोएब खान, राजू अंसारी, उज्ज्वला शेंडे, निखिल कापसे, आशीष लिम्बचिया, वैभव पराते, तुषार मदने, प्रणीत बिसने, फरदीन खान सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे.