262 करोड़ की जलापूर्ति योजना को मंजूरी, विधायक सुहास कांदे की प्रयासों को मिली सफलता

    नांदगांव : सरकार ने जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission) कार्यक्रम के अंतर्गत नांदगांव के साथ-साथ मालेगांव, देवला इन तीन तहसीलों के लिए लगभग 262 करोड़ (262 Crores) रुपए की नल जलापूर्ति योजना (Water Supply Scheme) को प्रशासकीय मान्यता है। जलापूर्ति मंत्री गुलाबराव पाटील (Minister Gulabrao Patil) ने इस नल जलापूर्ति की प्रशासकीय मंजूरी का पत्र शिवसेना विधायक सुहास अण्णा कांदे (Suhas Anna Kande) को दिया है। इस योजना से नांदगांव (Nandgaon), मालेगांव (Malegaon) और देवला (Devla) के अंर्तगत आने वाली तीनों तहसील (Tehsil) के 78 गांवों (78 Villages) को फायदा होगा। इस कारण यहां की जल किल्लत का स्थायी तौर पर समाधान हो जाएगा। मनमाड के साथ ही साथ विधायक सुहास कांदे ने 78 गांवों की जल समस्या का समाधान करने में सफलता हासिल की है। 

    78 गांवों की जल समस्या होगी हल

    सरकार ने जल जीवन मिशन कार्यक्रम के तहत नंदगांव सहित मालेगांव और देवला सहित तीन तहसीलों के लिए लगभग 262 करोड़ रुपये की नल जल आपूर्ति योजना के लिए प्रशासनिक स्वीकृति दी है। 78 गांवों, बस्तियों और बस्तियों को लाभ पहुंचाकर पानी की कमी को स्थायी रूप से हल किया जाएगा।  मनमाड विधायक सुहास अन्ना कांडे ने 78 गांवों की पानी की समस्या का समाधान निकालने में सफलता हासिल की है। 

    समस्या हल करने के लिए विधायक सुहास ने सार्थक प्रयास किए

    पुरानी नंदगांव 56 खेड़ी जलापूर्ति योजना के कारण कई समस्याएं जैसे कि खराबी, जल वितरण में रुकावट, नियमित जलापूर्ति की अनुपलब्धता के कारण नागरिकों को पानी की भारी किल्लत हो रही थी। कई गांवों में यही स्थिति देखी जा रही है। इस समस्या को स्थायी रूप से हल करने के लिए विधायक सुहास अण्णा कांदे ने 56 गांवों की जलापूर्ति योजना और 22 नए गांवों सहित 78 गांवों की जलापूर्ति योजना के नवीनीकरण के लिए सार्थक प्रयास किए। माननीय गुलाबराव पाटिल विधायक सुहास अन्ना कांदे को योजना की प्रशासनिक स्वीकृति का आधिकारिक पत्र सौंपा। 

    जल्दी ही योजना का काम शुरू होगा 

    यह योजना नागरिकों को प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 55 लीटर पानी उपलब्ध कराएगी। हम निर्वाचन क्षेत्र में लोगों की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने की दिशा में काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जल्दी ही योजना का काम शुरू होगा और नागरिकों को नियमित और प्रचुर मात्रा में पानी मिलेगा। नंदगांव, मालेगांव और देवला तालुका के 56 गांवों में साकोरी पाथर्डी निमगुले दुबगुले, माथुरपाड़ा, भुइगवाहन, अजंडे, गिलाने, मालेगांव, खैदे, जेउर, जाटपड़े, निमगांव बुद्रुक, निमगांव खुर्द, जवार्दी बुद्रुक, यसगांव खुर्द, यसगांव बुद्रुक, चौकट पाड़ा, निम्बायती, घोडेगांव, मेवने, वरहाणे, वरहनपाड़ा, जलगांव, चोंडी, सावकरवाड़ी, मांजरे, तकली, सोनाज, शिरसोंडी, सौंदाने, नंदगांव जड़ी, एरंदगांव, गंगाधारी, बाबुलवाड़ी, डॉक्टरवाड़ी, जलगांव खुर्द, पिंपरखेड़, परधाड़ी, गणेशनगर, सकोरा, पिंपरी हवेली, हिंगने, हिसवाल, हिसवाल, पिंपरी हवेली, हिंगने, मंडवाड़, गिरना नगर, श्रीराम नगर, न्यू पंझन, जामदारी, कलामदारी, वखारी, पिंपल, जलगांव खुर्द, देवला तालुका में वरहाली, तिसगांव, यमलहर वाड़ी, क्रांतिनगर, बनगांव बुद्रुक, बनगांव खुर्द, मोरजार, भावरी, दहेगांव, पोही, खिर्डी, पटोड़े, फुले नगर, गणेश नगर, आजाद नगर, तकली बुद्रुक, तकली खुर्द, सोयागांव, इसमें तंदुलवाड़ी, वडाली, बुद्रुक, वडाली खुर्द आदि गांव शामिल हैं। 

    योजना में शामिल गांव और बस्तियां

    नंदगांव तहसील – 38 गांव, 11 बस्तियां

    मालेगांव तहसील – 37 गांव, 15 बस्तियां

    देवला तहसील  –  02 गांव, 01 वाडी