Nashik Municipal Corporation suffered a setback of 150 crores in the first quarter, the councilors may have to face problems

    नाशिक. नाशिक शहर (Nashik City) में कोरोना मरीजों (Corona Patients) की संख्या कम हो रही है, जिसे ध्यान में रखकर नियमों (Rules) में ढील जारही है। लेकिन होटलों (Hotels) में नियम दर किनार होते हुए देखकर जिला प्रशासन (District Administration) ने इस मामले में कार्रवाई शुरू कर दी है। महानगरपालिका कमिश्नर (Municipal Commissioner) ने होटल कारोबारियों के साथ मॉल और सुपर मार्केट में निरीक्षण करते हुए नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ नकद जुर्माना वसूल करने के आदेश दिए है। जिसके अनुसार महानगरपालिका ने कार्रवाई शुरू कर दी है।

    महानगरपालिका कमिश्नर कैलास जाधव ने आठ दिनों पूर्व विभाग प्रमुखों की बैठक में इस कार्रवाई के आदेश दिए थे। इसके बाद अधिकारियों ने सिडको परिसर की 22 होटल्स पर कार्रवाई की। पचास प्रतिशत क्षमता से अधिक ग्राहकों को प्रवेश देने के मामले में 6 होटल पर कार्रवाई करते हुए तीन हजार रुपए जुर्माना वसूला गया।  इसी प्रकार से होटल में मास्क का उपयोग टालने वाले 20 लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए दस हजार रुपए जुर्माना वसूला गया। सिडको विभाग से 13 हजार रुपए का जुर्माना वसूला गया।

    नाशिकरोड विभाग के होटलों में एक होटल चालक से पांच सौ रुपए का जुर्माना वसूला गया। पूर्व विभाग के आठ बडे मॉल्स और सुपर मार्केट में महानगरपालिका के अधिकारियों ने मुआयना करते हुए टीकाकरण करने वाले कर्मियों की जानकारी संकलित की। महानगरपालिका ने होटल और माल्स में यह अभियान तेज किया है। शहर के छह विभागीय अधिकारियों को कूडा व्यवस्थापन के संचालक डॉ. आवेश पलोड ने आदेश देकर जांच करने की सूचना दी,  इसलिए आने वाले समय में होटल, माल्स, सुपर मार्केट में नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी।