corona
Representative Pic

    नाशिक :  जिले में कोरोना ओमीक्रोन वायरस (Corona Omicron Virus) का खतरा बढ़ता जा रहा है। शहर में कल कुल 42 कोरोना संक्रमित मरीज मिले, जिनमें से एक की मौत हो गई। इस बीच, शहर इस समय 446 कोरोना मरीजों (Corona Patients) का इलाज कर रहा है।  341 संदिग्धों की रिपोर्ट (Report) का इंतजार है। जैसे-जैसे कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़ती जा रही है, नाशिक निवासियों और प्रशासन की चिंता भी बढ़ गई है।  जिला सामान्य अस्पताल (District General Hospital) को मिली रिपोर्ट के अनुसार जिले में 4 लाख 4 हजार 56 कोरोना मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है।  फिलहाल 446 मरीजों का इलाज चल रहा है।  साथ ही अब तक 8 हजार 746 मरीजों की मौत हो चुकी है, इसकी जानकारी जिला नोडल अधिकारी डॉ.  अनंत पवार ने दी है। 

    ग्रामीण नाशिक में इस समय इलाज करा रहे मरीजों में नाशिक 37, बागलान 16, चांदवड़ 9, देवला 13, दिंडोरी 13, इगतपुरी 28, कलवण 9, मालेगांव 7, नांदगांव 12, निफाड़ 53, पेठ 2, सिन्नर 32, सुरगाणा 5, त्र्यंबकेश्वर 3, येवला 4, कुल 243 ऐसे पॉजिटिव मरीजों का ग्रामीण क्षेत्रों में इलाज चल रहा है।  नाशिक महानगरपालिका क्षेत्र में 188 मरीज, मालेगांव महानगरपालिका क्षेत्र में 6 मरीज और जिले के बाहर के 9 मरीज हैं और कुल 446 मरीजों का इलाज चल रहा है।  साथ ही जिले में अब तक 4 लाख 13 हजार 248 मरीज मिल चुके हैं। 

    नाशिक जिले में सार्वजनिक स्थानों के उपयोग के लिए नए नियम लागू किए गए हैं।  अगर वैक्सीन नहीं होगी तो कहीं भी पहुंच नहीं होगी। यदि टीकाकरण ना करने वाले लोग पाए जाते हैं, तो संबंधित प्रतिष्ठानों को जिम्मेदार ठहराया जाएगा।  ये नए नियम 23 तारीख से लागू होंगे, इसकी जानकारी गुरुवार को पालक मंत्री छगन भुजबल ने दी।  ओमीक्रोन का पहला मरीज नाशिक में मिला है।  इसलिए पालक मंत्री छगन भुजबल, जिला कलेक्टर सूरज मांढरे और पुलिस कमिश्नर दीपक पांडे के बीच बैठक हुई।  उसके बाद पालक मंत्री ने यह जानकारी दी। 

    मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ कार्रवाई 

    महाराष्ट्र में कोरोना ओमीक्रोन वायरस के मरीज मिले हैं। यह वायरस अत्याधिक संक्रामक है।  इसे ध्यान में रखते हुए नागरिकों को कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए सुरक्षित दूरी का पालन करना चाहिए। एक जगह भीड़ न लगाएं।  खासकर प्रशासन ने सभी से मास्क पहनने की अपील की है।  वहीं, मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। आप किसी भी वाहन में यात्रा करते हैं।  अगर मास्क नहीं पहना है तो ड्राइवर पर भी जुर्माना लगाया जा रहा है।