West Bengal's big step amid the threat of Omicron in the country, testing of booster dose will start soon
Representational Pic

    नाशिक : जिले (District) के फ्रंटलाइन अधिकारी (Frontline Officer) विभागीय आयुक्त (Divisional Commissioner) राधाकृष्ण गमे (Radhakrishna Game), जिलाधिकारी (District Magistrate) सूरज मांढरे (Suraj Mandhare), जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी लीना बनसोड, नाशिक महानगरपालिका कमिश्नर कैलाश जाधव, जिला पुलिस सुपरिटेंडेंट सचिन पाटिल ने कोविड 19 के वैक्सीन का बूस्टर डोज लेकर नाशिक वासियों को बूस्टर डोज लेने के लिए प्रोत्साहित किया है।

    नाशिक में सभी विभाग एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे है। उन्होंने अपने काम से दिखा दिया है कि तीसरी लहर को रोकने के लिए हम वैक्सीन लेकर तैयार है। सोमवार को जिला हॉस्पिटल के वैक्सीनेशन सेंटर में इन अधिकारियों ने सुबह सुबह बूस्टर डोज लिया।

    इस मौके पर स्वास्थ्य विभाग के विभागीय उपसंचालक नाशिक मंडल के डॉ. पु. ना. गांडाल, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कपिल आहेर, जिला माता बाल संगोपन अधिकारी डॉ. कैलाश भोये, अतिरिक्त जिला सर्जन डॉ. के आर श्रीवास, डॉ. शरद पाटिल, डॉ. मनोज गाडेकर आदि उपस्थित थे।  इस मौके पर जिलाधिकारी ने बताया कि उन लोगों ने कौन सी वैक्सीन ली है। जिलाधिकारी सूरज मांढरे ने कहा कि इससे पूर्व मैंने जो वैक्सीन ली थी उसकी बूस्टर डोज ली है।

    जल्द से जल्द बूस्टर डोज लेने की अपील 

    विभागीय आयुक्त राधाकृष्ण गमे ने कहा कि जिले के सभी स्वास्थ्य कर्मचारी और फ्रंटलाइन सेवक बूस्टर डोज का लाभ ले। साथ ही 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोग भी इस मुहिम में शामिल हो और जिले में सौ फीसदी वैक्सीनेशन के लिए प्रयास करें।  वैक्सीनेशन सत्र के आयोजन को देखकर उन्होंने संतोष व्यक्त किया। इस मौके पर जिलाधिकारी सूरज मांढरे और जिला परिषद की सीईओ लीना बनसोड ने ग्रामीण भाग में काम करने वाले सभी स्वास्थ्य सेवकों और फ्रंटलाइन वर्कर  से जल्द से जल्द बूस्टर डोज लेने की अपील की।