fraud
Representative Pic

    नाशिक : ऑनलाइन फ्रॉड (Online Fraud) की घटना में लगातार तेजी आ रही है। साइबर अपराधी (Cyber Criminals) अलग अलग तरकीब अपनाकर लोगों को ठग रहे है। साइबर अपराधी ठगी के लिए नये नये आइडिया का इस्तेमाल कर रहे है। यही वजह है कि आर्थिक ठगी (Financial Fraud) के मामले बढ़ गए है।

    कोरोना की तीसरी लहर में हर दिन हजारों लोग कोरोना संक्रमित (Corona Infected) हो रहे है। इसे देखते हुए बूस्टर डोज (Booster Dose) के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है। सोमवार से इसकी शुरुआत हुई है। साइबर अपराधियों ने बूस्टर डोज के नाम पर लोगों को ठगना शुरू कर दिया है। बूस्टर डोज उपलब्ध कराने के नाम पर ये स्मार्ट चोर बुजुर्गों को अपना निशाना बना रहे है। बूस्टर डोज के रजिस्ट्रेशन के नाम पर वे नागरिकों को फोन कर रहे है। इसके बाद ओटीपी नंबर पूछते है। डोज के नाम पर ये गैंग ओटीपी पूछते है और कुछ ही देर में संबंधित व्यक्ति के अकाउंट से पैसे अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर लेते है। ऐसे में नागरिकों को सावधान रहने की जरूरत।

    ऐसे हो रही है ठगी

    • अंजान नंबर से आपके मोबाइल पर फोन आएगा
    • वे पूछेंगे आपने दोनों वैक्सीन ली क्या
    • अगर आप बोलते है ले लिया है तो आपको बूस्टर डोज लेने के लिए कहेंगे
    • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की बात कहेंगे
    • इसके बाद आपके मोबाइल में ओटीपी आएगा वह नंबर आपसे पूछेंगे
    • अगर आपने ओटीपी नंबर दे दिया तो आपके अकाउंट से पैसे निकाल लेंगे