College cheated 125 girl students in Nashik, loss of education for one year

    नाशिक. नाशिकरोड (Nashik Road) के एक कॉलेज (College) में दाखिले के नाम पर 125 छात्राओं (Students) के साथ कॉलेज द्वारा धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। ऐसे में इन छात्रों का साल बर्बाद होने वाला है। मिली जानकारी के अनुसार मुंबई (Mumbai) की श्रीमती नाथीबाई दामोदर ठाकरसी महिला विश्वविद्यालय(Smt. Nathibai Damodar Thakarsi Women University) के अंतर्गत संचलित साने गुरुजी शिक्षण संचालक मंडल (Sane Guruji Education Director Board) का के.एन केला कॉलेज नाशिकरोड पर स्थित है।

    इस कॉलेज में ग्रामीण इलाकों की अनेक छात्राऐं शिक्षा प्राप्त करने के लिए दाखिला लेती हैं। इस कॉलेज में कई महिलाओं ने भी अपनी अधूरी शिक्षा पूर्ण करने के लिए दाखिला ले रखा है। पिछले दो वर्षो से कोरोना के कारण कॉलेज बंद है। इस कॉलेज में करीब 125 छात्राओं ने प्रवेश लिया है जिसके लिए हर छात्रा ने 4500 रुपए की फीस भरी है। विश्वविद्यालय के परीक्षाएं शुरु हैं। मंगलवार की रात एक छात्रा के मोबाईल पर परिक्षा का टाईम टेबल आया। कला और वाणिज्य शाखा के दूसरे और तीसरे वर्ष और एम.ए के दूसरे साल की 125 छात्राऐं परिक्षा दे रही हैं। 

    छात्राएं बुधवार को परिक्षा देने के लिए तैयार थीं लेकिन उन छात्राओं को परिक्षा शुरु होने से पहले तक ऑनलाईन परिक्षा का कोड नहीं मिला। एैसा होने पर छात्राओं ने विश्वविद्यालय को फोन किया तो उन्हें कॉलेज में फोन करके जानकारी लेने को कहा गया। कॉलेज ने दोबारा यूनिवर्सिटी से संपर्क करने को कहा। यह टालमटोल घंटों चलती रही। आखिर देर गए तक खुलासा हुआ कि इन 125 छात्राओं का कॉलेज में दाखिला ही नहीं है। यह सुनते ही कई छात्राऐं रोने लगीं। एक तरफ साल बर्बाद हुआ तो दूसरी तरफ फीस का पैसा डूब गया। इसको लेकर छात्राओं ने प्राचार्य से संपर्क किया। लेकिन, उन्हें संतोषजनक जवाब नहीं मिला।