Corona Updates : Vaccinated tourists will not have to show RT-PCR report: Andaman Administration
Representative Photo

    नाशिक. जिले (District) में कोरोना मरीजों (Corona Patients) की संख्या एक बार फिर एक हजार के पार चली गई है। जिले में इस समय 1 हजार (Thousand) 22 मरीजों का इलाज (Treatment) चल रहा है। पिछले कुछ दिनों से नाशिक जिले (Nashik District) के सिन्नर (Sinnar) और निफाड़ (Niphad) में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है और ये दोनों ही गांव कोरोना का हॉटस्पॉट बनते जा रहे हैं। सिन्नर और नगर शहरों की सीमा रेखा करीब है। इससे इन क्षेत्रों में भी मरीजों की संख्या बढ़ने की संभावना है।

    जिला सामान्य अस्पताल की आज की रिपोर्ट के अनुसार जिले में 3 लाख 97 हजार 778 कोरोना मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। फिलहाल 1 हजार 22 मरीजों का इलाज चल रहा है। साथ ही अब तक 8 हजार 611 मरीजों की मौत हो गई है। एैसी जानकारी जिला  नोडल अधिकारी डॉ. अनंत पवार ने दी है। नाशिक ग्रामीण में नाशिक 35,  बागलाण 12, चांदवड 40, देवला 29, दिंडोरी 26, इगतपुरी 8, कलवण 3, मालेगाव 13, नांदगाव 8, निफाड 184, सिन्नर 293, सुरगाणा 2, त्र्यंबकेश्वर 11, येवला 69 कुल 733 पॉजिटिव मरीजों का ग्रामीण इलाकों में इलाज चल रहा है। साथ ही नाशिक महानगरपालिका क्षेत्र में 267 मरीज, मालेगांव महानगरपालिका क्षेत्र में 18 मरीज और जिले के बाहर के 4 मरीज हैं।

    कोरोना टेस्ट बढ़ाए जाएं

    जिले में अब तक 4 लाख 7 हजार 411 मरीज मिल चुके है। इस बीच, जिले में मरीजों के ठीक होने की दर ग्रामीण नाशिक में 96.89 प्रतिशत, नाशिक शहर में 98.15 प्रतिशत, मालेगांव में 97.06 प्रतिशत और बाहरी पेशेंट जिलों में 97.74 प्रतिशत है। जिले में रिकवरी रेट 97.64 है। अहमदनगर में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या से नाशिक निवासी चिंतित हैं। शहर में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसे देखते हुए हमें नाशिक पर नजर रखनी चाहिए। प्रदेश के मुख्य सचिव सीताराम कुंटे ने कहा कि यहां कोरोना टेस्ट बढ़ाए जाएं। कुंटे ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए नाशिक, नगर, पुणे, ठाणे और सातारा जिलों में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की। इस बार उन्होंने कलेक्टर से भी चर्चा की।

    कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ा दी 

    वर्तमान में नाशिक जिले में बड़ी मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध है। इसलिए टीकाकरण तेजी से आगे बढ़ रहा है। दूसरी ओर, नागरिकों ने कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ा दी हैं। शहर के प्रमुख बाजारों में भीड़भाड़ है। पंचवटी, रामकुंड, शालीमार, अशोकस्तंभ, मुंबई नाका, नाशिक रोड, अशोका मार्ग, गंगापुर रोड, महात्मानगर, दीपालीनगर, इंदिरानगर समेत सभी इलाकों में कोरोना नियमों का पालन नहीं हो रहा है। खासकर ज्यादातर लोग मास्क का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। ऐसे में अगर मरीजों की संख्या बढ़ती है तो उन्हें काबू में करना एक बड़ी चुनौती होगी।