फर्जी खेल प्रमाण पत्रों की होगी जांच :  अदिति तटकरे

नाशिक. राज्य के खेल विभाग (Sports department) को फर्जी खेल प्रमाणपत्रों (Fake sports certificates) की लगभग 258 शिकायतें मिली हैं। खेल और पर्यटन राज्य मंत्री (Minister of State Sports and Tourism) अदिति तटकरे (Aditi Tatkare) ने कहा कि इन सभी शिकायतों की जांच का आदेश दिया गया है।

इस बीच, नाशिक में धार्मिक, कृषि और चिकित्सा पर्यटन के लिए अनुकूल माहौल है और राज्य सरकार नाशिक में पर्यटन के लिए और अधिक प्रोत्साहन देगी, उन्होंने आश्वासन दिया। तटकरे सोमवार को नाशिक के दौरे पर थीं। 

कोविड से प्रभावित हुआ पर्यटन

मनपा कार्यालय में यूथ कांग्रेस (Youth congress) के पदाधिकारियों के साथ चर्चा के बाद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि कोविड (Covid) ने राज्य में पर्यटन (Tourism) को प्रभावित किया है। नाशिक डिवीजन और कोंकण डिवीजन में, कोविड के कारण पर्यटक प्रतिबंधित हैं। हालांकि अब स्थिति धीरे-धीरे सामन्य हो रही है। नाशिक में अंगूर पार्क, बोट क्लब के माध्यम से पर्यटन को बढ़ावा दिया जा रहा है। बोट क्लब में अधिक सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। नाशिक में धार्मिक, कृषि और चिकित्सा पर्यटन के लिए एक अच्छा अवसर है। यहां पर्यटन को बढ़ावा दिया जा रहा है। तटकरे ने कहा कि इसके लिए राज्य सरकार द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। नाशिक से फर्जी खेल प्रमाणपत्रों की शिकायतें भी मिली हैं। राज्य से लगभग 258 शिकायतें हैं। इन सभी की विभाग द्वारा जांच की जा रही है। 

अच्छे खिलाड़ियों के साथ गलत व्यवहार बर्दाश्त नहीं

खेल संघों के लिए और कड़े नियम बनाने के लिए विभाग को भी निर्देशित किया गया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि विभाग चाहता है कि अच्छे खिलाड़ियों के साथ गलत व्यवहार न किया जाए। इस दौरान, उन्होंने उद्यमियों के साथ-साथ राकांपा के पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया।