कैदियों ने बनाया गणेश की Eco-Friendly मूर्तियां, चतुर्थी से पहले एडवांस में बिकी

    नासिक. अपराध करने वाले हाथ अब ईको फ्रेंडली (Eco-Friendly) गणेश की मनमोहक मूर्तियों का निर्माण करने में जुटे हैं। नासिक रोड सेंट्रल जेल के कैदियों ने ऐसे  600-700 (Eco-Friendly Ganesh) भगवान गणेश की मूर्तियों का निर्माण किया है। मिट्टी और गोबर से बनी इन मूर्तियों को रंगने में प्राकृतिक रंगों (Natural Colors) का इस्तेमाल किया गया है। इन्हें आकर देने वाले आजीवन कारावास की सजा काट रहे बंदी हैं। 

    पुलिस अधीक्षक प्रमोद वाघ ने बताया कि, गणेश चतुर्थी से पहले नासिक रोड सेंट्रल जेल (Nashik Road Central Jail) के कैदियों (Inmates)  द्वारा बनाई गई ‘शादु माटी’ (मिट्टी) बानी मुर्तिया बेचने के लिए एक विशेष स्टोर का उद्घाटन किया गया है।”  कैदी हर साल ऐसे ही 600-700 पर्यावरण के अनुकूल गणपति बनाते हैं। ये सभी मुर्तिया गणेश चतुर्थी से पहले ही एडवांस में बेची जा चुकी है।”