Nashik Police Commissioner furious at MNS, warns of complaint to Election Commission for breaking the law

    नाशिक. गुरुवार (Thursday) को नाशिक (Nashik) में राज ठाकरे (Raj Thakrey) के मनसे कार्यकर्ताओं (MNS Workers) ने पूरे शहर (City) में होर्डिंग (Hoarding) और झंडे लगाकर राज का जोरदार स्वागत किया। लेकिन इससे पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner) दीपक पांडे (Deepak Pandey) नाराज हैं, बताया जा रहा है कि उन्होंने इस मामले पर चर्चा के लिए गुरुवार को ही राज ठाकरे से मुलाकात की।

    मनसे कार्यकर्ता पहले से ही योजना बना रहे थे कि राज ठाकरे के नाशिक आने पर उनका जोरदार स्वागत किया जाएगा और एैसा ही हुआ। बुधवार को मनसे कार्यकर्ताओं ने राज का स्वागत करते हुए होर्डिंग लगाए लेकिन इस के लिए पुलिस से अनुमति नहीं मांगी गई थी। राज ठाकरे जिस होटल में ठहरे हैं, उस होटल में भी होर्डिंग्स लगाए गए हैं। पुलिस की टीम होर्डिंग्स हटाने पहुंची, उस समय दस्ते के अधिकारियों और मनसे कार्यकर्ताओं के बीच जम कर नोकझोंक हुई। इसलिए पुलिस के मुंबईनाका थाने में भीड़ जमा हो गई, नारेबाजी और आपदा प्रबंधन कानून के उल्लंघन के मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

    होर्डिंग लगाने की अनुमति नहीं है

    अधिकारियों द्वारा होर्डिंग हटाने के बाद मनसे कार्यकर्ताओं ने फिर से होर्डिंग लगा दी है। इसलिए गुरुवार सुबह पुलिस कमिश्नर दीपक पांडेय ने राज ठाकरे से मुलाकात की। उन्होंने महानगरपालिका चुनाव की पृष्ठभूमि में नए नियमों की जानकारी उन्हें दी। नाशिक में किसी भी राजनीतिक दल या सामाजिक संगठन को होर्डिंग लगाने की अनुमति नहीं है। नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। दीपक पांडे ने कहा, ‘हम मनसे के जिलाध्यक्ष से अनधिकृत होर्डिंग्स के बारे में बात करेंगे और उनपर कार्रवाई की जाएगी।

    चुनाव आयोग को पार्टी की रिपोर्ट करेंगे

    होर्डिंग्स मामले से पुलिस कमिश्नर दीपक पांडेय पूरी तरह से मनसे से नाराज दिखाई दे रहे हैं। यदि कानून का उल्लंघन किया जाता है, तो हम सीधे चुनाव आयोग को पार्टी की रिपोर्ट करेंगे। इससे पहले पार्टी के जिलाध्यक्ष से इस बारे में पूछा जाएगा। अगर हमें उनसे संतोषजनक जवाब नहीं मिलता है तो हम सीधे चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराएंगे। कानून सभी पार्टियों के लिए समान है। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर कानून का उल्लंघन किया गया तो कार्रवाई करनी होगी।

    फरवरी में होंगे चुनाव 

    राज्य में फरवरी 2022 में 18 महानगर पालिका चुनाव होंगे। उनमें मुंबई, ठाणे, उल्हासनगर, भिवंडी-निजामपुर, पनवेल, मीरा-भायंदर, पिंपरी-चिंचवड़, पुणे, सोलापुर, नाशिक, मालेगांव, परभणी, नांदेड़-वाघाला, लातूर, अमरावती, अकोला, नागपुर और चंद्रपुर शामिल हैं। इस चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों के नेता सक्रिय हो गए हैं। नए साल में फिर से चुनावी मौसम आने के साथ ही आरोप-प्रत्यारोप और सियासी घमासान जोरों पर है। उल्लेखनीय है कि मुंबई, ठाणे, नाशिक, पुणे, पिंपरी चिंचवड़ में राजनीतिक नेताओं का अभियान और तेज होने की संभावना है।