Nashik Municipal Corporation
File Photo

    नाशिक : कोरोना (Corona) की संभावित तीसरी लहर सामना करने के लिए महानगरपालिका (Municipal Corporation) की ओर से कोरोना नियमों (Corona Rules) का उंल्लघन करने वालों पर कार्रवाई की जा रही है, लेकिन महानगरपालिका मुख्यालय (Municipal Headquarters) में ही कोरोना नियमों (Corona Rules) की धज्जियां उड़ाने की बात सामने आई है। गौरतलब है कि महानगरपालिका के कर्मचारी मास्क का उपयोग नहीं कर रहे है। एकाएक किए गए दौरे के बाद 11 कर्मचारियों पर दंडात्मक कार्रवाई की गई।

    कोरोना की पहली और दूसरी लहर का प्रभाव कम होने के बाद कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना व्यक्त की जा रही है। फिलहाल तीसरी लहर के संकेत नहीं मिले है, लेकिन नागरिकों को कोरोना नियमों का पालन करने की अपील की गई है। साथ ही कोरोना नियमों का उंल्लघन करने वाले नागरिकों पर कार्रवाई करने के लिए मंडी में महानगरपालिका की ओर से प्रत्येकी दो ऐसे 6 विभाग में 12 उडन दस्ते का चयन किया है। सार्वजनिक जगह पर मास्क का उपयोग न करने वाले नागरिकों पर दंडात्मक कार्रवाई करने की सूचना महानगरपालिका कमिश्नर कैलास जाधव ने दी है।

    500 रुपये का जुर्माना लगाया गया

    मास्क का उपयोग न करने वाले नागरिकों से 500 रुपए दंड वसूला जा रहा है। सार्वजनिक जगह पर कार्रवाई करने के साथ सरकारी कार्यालयों में एकाएक दौरा कर मास्क का उपयोग न करने वाले कर्मचारी, अधिकारी और कामकाज निमित्त आए नागरिकों पर कार्रवाई करने की सूचना दी गई है। लेकिन कार्रवाई करते समय महानगरपालिका मुख्यालय में ही मास्क का उपयोग न करने की बात सामने आई है। इसके बाद अतिरिक्त आयुक्त सुरेश खाडे ने एकाएक दौरा किया, जिसमें विविध विभाग के 11 कर्मचारी व नागरिक मास्क का उपयोग न करते हुए दिखाई दिए। प्रत्येक पर 500 रुपये का जुर्माना लगाया गया।

    हेल्मेट के साथ मास्क की सख्ती

    पुलिस कमिश्नर ने सरकारी कार्यालय में प्रवेश करते समय हेल्मेट सख्ती की है। अब महानगरपालिका कमिश्नर ने मास्क उपयोग को लेकर सख्ती की है। महानगरपालिका मुख्यालय के साथ महानगरपालिका के विभागीय कार्यालय में भी मास्क उपयोग बंधनकारक किया गया है। नियमों का उंल्लघन करने वालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है।