100 trains of onions arrived in APMC from Gujarat, prices fell in bulk

    नाशिक. प्याज (Onion) की अच्छी कीमतों के कारण भारत (India) में निर्यात धीमा हो गया है। दुबई (Dubai) सहित अरब देश वर्तमान में तुर्की, मिस्र और पाकिस्तान (Pakistan) से प्याज में प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं। तुर्की के प्याज (Turkey Onion) की कीमत 400 डॉलर प्रति टन, मिस्र की 375 से 425 डॉलर प्रति टन और पाकिस्तान की 370 से 400 डॉलर प्रति टन है। 

    ईरान में व्यापारियों ने आयातकों को 15 दिनों में आने वाले प्याज के लिए 370 डॉलर प्रति टन की पेशकश शुरू कर दी है। साथ ही लंदन समेत यूरोपीय बाजार में 30 रुपये प्रति किलो के भाव से हॉलेन्ड की प्याज का दबदबा है। 

    दुबई में तुर्की के साथ मिस्र और पाकिस्तानी प्याज 

    श्रीलंकाई व्यापारियों के लिए तुर्की के निर्यातकों ने प्याज के लिए 425 डॉलर प्रति टन की कीमत तय की है। मौजूदा समय में एक टन भारतीय प्याज निर्यात की कीमत 620 से 650 डॉलर तक पहुंच गई है। नमी की मात्रा अधिक होने के कारण पाकिस्तान के नए प्याज की कीमत में 2.5 रुपये प्रति किलोग्राम की कमी की गई है। अफगानिस्तान में व्यापारी 400 डॉलर प्रति टन के हिसाब से एकीकृत जांच चौकी पर प्याज भेजते हैं। वहां से पाकिस्तानी निर्यातक अफगान प्याज को 430 डॉलर प्रति टन के हिसाब से भेज रहे हैं। चीन में प्याज का भंडारण शुरू हो गया है। यह प्याज एक महीने बाद बिक्री के लिए निकलेगा। कीमतों में पूरे दिन उतार-चढ़ाव होता रहता है।

    नाशिक जिले में सप्ताह के पहले दिन प्याज की कीमतों में 1 रुपये से 2 रुपये प्रति किलोग्राम की गिरावट आई थी, जहां प्याज डिपो हैं। दोपहर में आमदनी कम होने से शाम को कीमतों में फिर 1 रुपये प्रति किलो की तेजी आई है। लासलगांव में ग्रीष्मकालीन प्याज की कीमत 3639 रुपये प्रति क्विंटल पर अपरिवर्तित रही। पिंपलगांव बसवंत में शनिवार से सोमवार तक ग्रीष्मकालीन प्याज 4200 रुपये प्रति क्विंटल पर बिका और मंगलवार को इसकी कीमत 4001 रुपये से अधिक हो गई है।

    सोलापुर में 4175 रुपये प्रति क्विंटल रहा

    येवला में भाव 212 रुपए प्रति क्विंटल से घटाकर 3500 रुपये, कलवण में 700 रुपये घटाकर 3800 रुपये, मुंगसे में 3400 रुपये, चांदवड़ में 3486 रुपये, मनमाड में 3200 रुपये किया गया, देवला में यह 3350 रुपये था।  यहां प्याज की कीमत 285 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ी। लासलगांव में ताजा लाल प्याज का भाव 450 रुपये की गिरावट के साथ 2100 रुपये प्रति क्विंटल पर आ गया।  मुंबई में अधिकतम भाव 3500 रुपये, पुणे में 3600 रुपये, नागपुर में 3500 रुपये और सोलापुर में 4175 रुपये प्रति क्विंटल रहा। 

    बारिश के पानी से नुकसान होने की संभावना 

    मध्य प्रदेश में जमा प्याज का पंद्रह से बीस फीसदी हिस्सा बचा है। वहीं, दक्षिण में प्याज को नुकसान पहुंचा है और बाजार में पहुंचने वाले 70 फीसदी प्याज को बारिश के पानी से नुकसान होने की संभावना है। राजस्थान में, दिवाली के बाद प्याज की आवक बढ़ने की उम्मीद है, एक महीने के भीतर मध्य प्रदेश में नए प्याज के बाजार में आने की उम्मीद है। नाशिक जिले से नए लाल प्याज पिछले साल अक्टूबर से बाजार में आने लगे थे। वर्तमान में नए लाल प्याज बिक्री के लिए हैं, लेकिन कम मात्रा में। नाशिक जिले में नए लाल प्याज की आवक बढ़ाने में एक से डेढ़ महीने का समय लगेगा। इन सभी स्थितियों ने देश में नाशिक के भंडारित ग्रीष्मकालीन प्याज की बढ़ती मांग में योगदान दिया है। एैसा खुलासा निर्यातक विकास सिंह के मंडी निरीक्षण में किया गया है।