Milk
File

    नाशिक. गाय (Cow) के दूध (Milk) में पैराफिन (Paraffin) जैसे रसायन (Chemicals) की मिलावट (Adulteration) के आरोप में एक दूध संग्रह केंद्र (Milk Collection Centre) के संचालक समेत चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, ज्ञात हो कि पैराफिन मानव स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। नाशिक (Nashik) में खाद्य अपमिश्रण निवारण एवं सुरक्षा विभाग (Food Adulteration Prevention and Safety Department) की एक टीम ने कार्रवाई करते हुए इस मामले का पर्दाफाश किया है।

    सिन्नर तहसील के पाथरे में अक्षय ज्ञानेश्वर गुंजाल का श्री स्वामी समर्थ दूध संग्रह केंद्र है। वह पास के कोपरगांव तहसील के न्यू शनेश्वर मिल्क कलेक्शन सेंटर में पाथरे और स्थानीय किसानों से खरीदा गया गाय का दूध बेचते है। दुग्ध व्यवसाय में अधिक लाभ कमाने के लिए नाशिक में खाद्य अपमिश्रण निवारण एवं सुरक्षा विभाग की एक टीम ‘पैराफिन’ पाउडर, सोयाबीन रिफाइंड तेल और ‘पैराफिन’ जैसे रंगहीन रसायनों में मिलावट कर किसानों से दूध की खरीद की जांच कर रही है। जो मानव स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

    केमिकल के आठ ड्रम जब्त किए गए

    ऑपरेशन के दौरान अक्षय गुंजाल से 40 लीटर पैराफिन केमिकल के आठ ड्रम जब्त किए गए। अक्षय ने यह रसायन, शेख नामक व्यक्ती के साथ उजनी तहसील सिन्नर के हेमंत पवार से खरीदने की बात कबूल की। इसी के तहत खाद्य अपमिश्रण निवारण एवं सुरक्षा विभाग के सुरक्षा अधिकारी राजेंद्र सूर्यवंशी ने चारों के खिलाफ वावी थाने में मामला दर्ज किया है।