Pritam Pankaja Munde

Loading

नाशिक: लोकसभा के नासिक निर्वाचन क्षेत्र में उम्मीदवार अभी तक महा गठबंधन द्वारा तय नहीं किया गया है, बीड लोकसभा क्षेत्र से महा गठबंधन की उम्मीदवार पंकजा मुंडे ने घोषणा की है कि नासिक से सांसद प्रीतम मुंडे को उम्मीदवारी दी जाने की महागठबंधन में चर्चा है। नासिक लोकसभा क्षेत्र से महाविकास अघाड़ी का उम्मीदवार तय हो गया है। लेकिन दूसरी ओर महागठबंधन से कौन सी पार्टी सीट छोड़ेगी, इसे लेकर अभी भी कुछ तय नहीं है। नासिक सीट पर भाजपा, शिवसेना का शिंदे गुट और राकांपा का अजित पवार गुट चुनाव लड़ने के इच्छुक हैं। ठाणे के बदले नासिक को लेकर भाजपा और शिंदे सेना के बीच बातचीत चल रही है।

इस बीच बीड लोकसभा क्षेत्र में महायुति की उम्मीदवार पंकजा मुंडे ने नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद एक सार्वजनिक बैठक में घोषणा की। बताया की वह बीड की पूर्व सांसद प्रीतम मुंडे को नासिक से उम्मीदवार बनाएंगी। लेकिन मौजूदा हालात में पंकजा की घोषणा राजनीतिक थी, लेकिन इसका परिणाम नासिक में देखने को मिला।

नासिक सीट पर जब शिंदे सेना और राकांपा के अजित पवार गुट के बीच मुकाबला चल रहा है, ऐसे में पंकजा ने प्रीतम की उम्मीदवारी का ऐलान कर दिया है, अब सवाल उठ रहा है कि आखिर महागठबंधन में चल क्या रहा है। नासिक लोकसभा सीट को लेकर महागठबंधन में विवाद चल रहा है। इस बीच जब पंकजा मुंडे ने प्रीतम मुंडे को उम्मीदवार घोषित की तो महागठबंधन के घटक दलों के दावेदारों की ओर से तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा गया, मुंडे परिवार को अब अपना घर छोटा लग रहा है। पंकजा की घोषणा के साथ ही नासिक सीट पर महागठबंधन में दरार कम होने के बजाय और बढ़ती हुई नजर आ रही है।

प्रीतम मुंडे के ऐलान से भाजपा के वरिष्ठ नेता भी हैरान हो गए हैं। प्रीतम के ससुर नाशिक के रहने वाले हैं इसलिए कहा जा रहा है कि बीड में प्रीतम का टिकट कटने और पंकजा को उम्मीदवार बनाए जाने के बाद नासिक सीट पर प्रीतम का नाम घोषित करने का खेल खेला गया।