death
Representational Pic

    येवला.  पिछले दिनों एक रेल्वे कर्मचारी (Railway Employee) के आत्महत्या (Suicide) कर लेने से विभाग (Department) में हलचल मच गई थी।  पुलिस (Police) ने बताया था कि मृतक कर्मचारी (Deceased Employee) के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला था जिसमें लिखा गया था कि वरिष्ठ अधिकारी उसे मानसिक (Mental) और शारीरिक पड़ताडना (Physical Torture) दे रहे थे। 

    इस संबंध में जिन लोगों के नाम सुसाइड नोट में लिखे गए थे उन 16 अधिकारियों पर गुन्हा दर्ज कर लिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मनमाड-औरंगाबाद (Manmad-Aurangabad) दक्षिण मध्य रेलवे लाइन (South Central Railway Line) पर तारूर रेलवे स्टेशन पर रेलवे कर्मचारी रहे गारखेड़ा के भाऊसाहब विट्ठल गायकवाड़ (51) ने रेलवे के कुछ अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा परेशान किए जाने के बाद सचखंड एक्सप्रेस के सामने आ कर आत्महत्या कर ली थी। 

    मृतक भाऊसाहेब गायकवाड़ की बेटी की शिकायत पर नगरसुल, लासूर, रोटेगांव और तारूर रेलवे स्टेशनों पर काम करने वाले 16 लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया गया है।  तहसील पुलिस द्वारा आगे की जांच की जा रही है।  मृतक गायकवाड़ चावीवाला के पद पर कार्यरत थे और वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा कई दिनों से पडताडित किए जा रहे थे एैसी शिकायत उन की बेटी ने पुलिस में दर्ज कराई थी और सुसाइड नोट में भी मृतक ने इसका खुलासा किया था।