बिना टिकट रेल यात्रा करने वालों में आई कमी

  • कोरोना प्रतिबंधक उपाय योजना का परिणाम

नाशिकरोड. कोरोना संक्रमण (Corona infection) न बढ़े, इसलिए रेल से यात्रा करने के लिए रेल प्रशासन ने यात्रियों पर विविध प्रकार की पाबंदी लगायी. इसके चलते रेल से यात्रा करने वालों की संख्या और बिना टिकट (without tickets) यात्रा करने वालों की तादात कम हो गई है. 

बता दें कि रेल प्रशासन नियमित रूप से बिना टिकट लिए यात्रा करने वालों पर कार्रवाई करने के लिए विविध अभियान कार्यान्वित करता है. कोरोना के चलते ऐसे यात्रियों पर अपने आप कमी आई है. 22 मार्च 2020 से कोरोना महामारी के चलते कई रेल गाड़ियां बंद है.

परिणामस्वरूप इस दौरान हजारों यात्रियों को  पैदल यात्रा करनी पड़ी. 1 मई से रेल प्रशासन ने पहली रेल गाड़ी शुरू की. इसके बाद चरणबद्ध तरीके से रेल गाड़ियां शुरू करते हुए यात्रा के लिए कई नियम लागू किए. इसमें टिकट कन्फर्म होने पर ही यात्रा की अनुमति सहित अन्य कई नियम शामिल हैं. इसके चलते बिना टिकट यात्रा करने वालों में कमी आयी है.