मतदाता सूची में फर्जी पंजीकरण पर शिवसेना ने जताई आपत्ति

नाशिक. सुधाकर बडगुजर (Sudhakar badgujar) ने शिवसेना (ShivSena)  के महानगर अध्यक्ष के रूप में नियुक्त होने के बाद मनपा चुनावों की तैयारी शुरू कर दी है।  बडगुजर जिला कलेक्टर सूरज मांढरे (District Collector Suraj Mandhare) से मुलाकात की और नगर निकाय चुनाव के लिए तैयार की जा रही मतदाता सूची (voter list) में दोहरे नामों (Double names) पर आपत्ति जताई।

बडगुजर ने शिकायत की है कि सरकारी कर्मचारियों द्वारा शहर में फर्जी मतदाताओं का नाम दर्ज किया जा रहा है। बडगुजर को महानगरपालिका चुनावों की पृष्ठभूमि पर महानगर अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है। इसलिए बडगुजर ने पद स्वीकार करते ही मनपा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। हालांकि फरवरी 2022 के लिए चुनाव निर्धारित हैं.

मतदाता सूची तैयार की जा रही है। चूंकि ये मतदाता सूची चुनाव जीतने के लिए महत्वपूर्ण हैं, इसलिए बडगुजर ने मतदाता सूची में दोहरे नामों पर ध्यान केंद्रित किया है। ग्रामीण क्षेत्रों में निवासी होने के बावजूद, शहर में सरकारी कर्मचारी बड़ी संख्या में फर्जी नए मतदाताओं का पंजीकरण कर रहे हैं। इसलिए बडगुजर ऐसे कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए जिला कलेक्टर मांढरे से मिले।

उन्होंने नए मतदाता पंजीकरण के बारे में मांढरे से भी चर्चा की। उन्होंने मांग की कि फर्जी नाम दर्ज करने वाले सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। इस अवसर पर विष्णु पवार, रमेश उगड़े, दीपक दतिर, निवृति दतिर आदि उपस्थित थे।