ST employees strike got MNS support

    नाशिक: महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (Maharashtra Navnirman Sena) के अध्यक्ष राज ठाकरे (Raj Thackeray) द्वारा दिए गए आदेश के बाद मनसे के पदाधिकारी और कार्यकर्ता एसटी महामंडल कर्मचारियों (ST Mahamandal Employees) द्वारा की जा रही हड़ताल में शामिल हो गया है। आदेश मिलने के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना नाशिक के सभी पदाधिकारियों ने पूरे राज्य के सभी एसटी डिपों में प्रत्यक्ष भेंट दी और कामगारों को उनके हक और मांगों के लिए डिपो प्रमुखों को ज्ञापन दिया गया।

    इस ज्ञापन में विशेष रुप से ‘एसटी महामंडल को राज्य शासन में विलीनीकरण करने की प्रमुख मांग की गई है। इस समय प्रदेश उपाध्यक्ष रतनकुमार इचम, जिलाध्यक्ष, अंकुश पवार, शहराध्यक्ष दिलीप दातीर, समन्वयक सचिन भोसले, उपजिलाध्यक्ष मनोज घोडके, नगरसेवक योगेश शेवरे, विभाग अध्यक्ष विक्रम कदम, भाऊसाहब निमसे, नितीन सालवे, योगेश लभडे, मनविसे के प्रदेश उपाध्यक्ष संदीप भवर, गणेश मोरे, नाशिक शहर उपाध्यक्ष विजय अहिरे, संतोष कोरडे, मनविसे के जिलाध्यक्ष अरुण दातीर, कौशल पाटिल, मनसे शारिरिक सेना के शहराध्यक्ष विजय आगले, मनविसे के शहराध्यक्ष ललित वाघ, अतुल पाटिल, भिजीत गोसावी, राहुल तिडके, महेंद्र डहाले, जनार्दन खाडे, पंकज दातीर, पंकज बच्छाव आदि उपस्थित थे।

    गौरतलब है कि रविवार शाम से शुरु हुआ धरना आंदोलन बुधवार को लगातार चौथा दिन भी जारी रहा। यात्रियों को अपनी यात्रा के लिए बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा, जब उन्हें अचानक पता चला कि सेंट्रल बस स्टैंड, हाईवे, ठक्कर बाजार में बस की हड़ताल है। इसमें बड़ी संख्या में महिलाओं और बच्चों को अधिक परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं नागरिक अपने निजी वाहनों या यात्रा वाहनों में यात्रा करते नजर आए।