शिक्षक 8 अगस्त को करेंगे सांकेतिक हड़ताल, जाने क्या है मामला

    पिंपलगांव बसवंत : महाराष्ट्र राज्य शिक्षक समन्वय समिति (Maharashtra State Teacher Coordination Committee) की विगत दिनों शिक्षक भवन शिक्षक नेता संभाजी तात्या थोरात की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया कि शिक्षक अपनी मांगों को लेकर 8 अगस्त को एक दिवसीय हड़ताल (Strike) करेंगे। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि शिक्षक हमें पढ़ाने दें, इस मांग को लेकर आंदोलन करेंगे। बैठक में आंदोलन की दिशा तय की गई। बैठक में समन्वय समिति के अध्यक्ष मधुकर काठोले, उदय शिंदे आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे। 

    विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय 

    बैठक में मुख्य रूप से एक निजी संगठन की ओर से स्कूल पोषण का ऑडिट, शिक्षक स्थानान्तरण, पुरानी पेंशन, सीएमपी प्रणाली, बीडीएस प्रणाली, केंद्र प्रमुखों के प्रश्न, विषय शिक्षकों और प्राचार्यों की समस्याओं, छात्र हित के मामलों पर चर्चा की गई। बैठक में कहा गया कि शिक्षकों को शिक्षण कार्य के अलावा अन्य कई कार्यों में लगाया जा रहा है। बैठक में यह भी कहा गया कि महाराष्ट्र में सभी शिक्षक संघों को समन्वय समिति के माध्यम से 8 अगस्त को एक दिवसीय विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया।

    हड़ताल में शिक्षक संघ से जुड़े सभी लोग हिस्सा लें

    बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि सितंबर महीने में व्यापक रूप से विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया। इस दौरान यह भी निर्णय लिया गया कि जल्दी ही मुंबई में समन्वय समिति की बैठक आयोजित की जाएगी। बैठक में अपील की गई कि 8 अगस्त की हड़ताल में सभी शिक्षक संघ से जुड़े लोग हिस्सा लें। बैठक में मधुकर काथोले, संभाजीराव थोरात, उदय शिंदे, चिंतामन लोखंडे, साजिद निसार, यादव पवार, कल्याण लवांडे, बालासाहेब जावरे, दीपक भुजबल, प्रदीप पाखले आदि उपस्थित थे।