सप्तश्रृंगी किले के विकास के लिए कम नहीं होगी राशि : गुलाबराव पाटिल

    नाशिक : सप्तशृंगी गढ़ (Saptashringi Garh) पूरे महाराष्ट्र (Maharashtra) का वैभव है। इस गढ़ पर दर्शन के लिए देशभर से श्रद्धालु यहां आते हैं और गढ़ पर ही रहते हैं। सप्तशृंगी गढ़ के विकास के लिए निधि कम नहीं पड़ने देंगे, ऐसा आश्वासन राज्य के जलापूर्ति और स्वच्छता मंत्री गुलाबराव पाटील (Minister Gulabrao Patil) ने दिया। पाटिल महाराष्ट्र जीवन प्राधिकरण विभाग, नाशिक की ओर से जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission) के अंतर्गत सप्तशृंगी गढ़ पर 9 करोड़ 23 लाख रूपए की नई जलापूर्ति योजना (Water Supply Scheme) के भूमिपूजन समारोह में बोल रहे थे।   

    जलापूर्ति मंत्री गुलाबराव पाटिल ने आगे कहा कि सप्तश्रृंगी गढ़ पूरे महाराष्ट्र के लिए पूजनीय हैं, यह जलापूर्ति योजना इस उम्मीद के साथ तैयार की जा रही है कि यहां प्रतिदिन 75,000 नागरिकों के लिए जल की व्यवस्था हो। उन्होंने कहा कि इस नई जलापूर्ति योजना के माध्यम से प्रतिदिन 2.5 लाख लीटर पानी और 22 लाख लीटर शुद्ध पानी की एक जल शोधन परियोजना का निर्माण किया जाएगा। इस योजना के लिए सीमेंट बांध, सूर्यकुंड और गंगा जमुना कुओं का भी उपयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बिजली बिल की समस्या से बचने के लिए सोलर सिस्टम को भी योजना में शामिल किया गया है।

    महाराष्ट्र के 28,000 गांवों में नल जलापूर्ति के लिए प्रतिबद्ध

    महाराष्ट्र जीवन प्राधिकरण जल जीवन मिशन के तहत जिले के हर गांव, वाडिया और पाड़्या में नल का पानी उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। नाशिक जिले के लिए प्रावधान किया गया है। नाशिक जल जीवन मिशन योजना एक क्रांतिकारी योजना हे, इसके तहत सरकार महाराष्ट्र के 28,000 गांवों में नल जलापूर्ति के लिए प्रतिबद्ध है, इसी के अनुरूप डीपीआर तैयार कर जुलाई तक पहले चरण का काम शुरू कर दिया जाएगा। जलापूर्ति मंत्री ने इस मौके पर यह जानकारी दी कि सप्तश्रृंगी किले के विकास के लिए राज्य के पर्यावरण और पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे भी पर्यटन की दृष्टि से सरकार के स्तर पर हर संभव मदद करेंगे।

    164 करोड़ रुपए के कामे मंजूर किए गए

    इस मौके पर विधायक नितिन पवार ने कहा कि नाशिक के महाराष्ट्र जीवन प्राधिकरण विभाग ने सप्तशृंगी गढ़ में नई जल योजना के लिए 9 करोड़, 23 लाख रूपए खर्च को मान्यता दी है, इसी योजना का भूमिपूजन यहां किया गया। इस योजना को तीन महीने में मंजूर किया गया। विधायक नितिन पवार ने बताया कि इस योजना से कलवण-सुरगाणा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए कुल 164 करोड़ रुपए के कामे मंजूर किए गए हैं। भूमिपूजन कार्यक्रम में विधायक नरेंद्र दराडे, नितिन पवार, सरपंच रमेश पवार, उप सरपंच मनीषा गवली, सदस्य सचिव जल आपूर्ति विभाग अभिषेक कृष्णा, अधीक्षण अभियंता सुनंदा नरवाडे, तहसीलदार बंडू कापसे, मार्केट कमेटी के अध्यक्ष धनंजय पवार और संदीप बेंके उपस्थित थे।