Nashik Municipal Corporation suffered a setback of 150 crores in the first quarter, the councilors may have to face problems

    सातपुर.  महानगरपालिका (Municipal Corporation) के सातपुर प्रभाग समिति (Satpur Division Committee) की बैठक सभापति योगेश शेवरे (Chairman Yogesh Shevre) की उपस्थिती में आयोजित की गई थी, जिसमें प्रभाग क्रमांक 10 की नगरसेविका पल्लवी पाटिल (Councilor Pallavi Patil) ने सातपुर कॉलोनी, श्रीराम सर्कल के पास हुए अतिक्रमण को लेकर सभागृह में ठिया आंदोलन किया।  इस आंदोलन को सभी सदस्यों ने समर्थन दिया।  इसके बाद सभापति शेवरे ने अधिकारियों को संबंधित अतिक्रमण को लेकर दर्ज हुई शिकायत को दो दिन में निपटाने के आदेश दिए।  इसके बाद आंदोलन वापस लिया गया। 

    महानगरपालिका के प्रभाग क्रमांक 10 में भाजपा, शिवसेना युती की सत्ता थी तब ढ़ाई करोड़ निधी से उद्यान और जॉगिंग ट्रैक मंजूर किया गया था।  पूर्व पर्यटन मंत्री जयकुमार रावल ने प्रभाग 10 के लिए निधी दिया।  महानगरपालिका की लापरवाही के चलते जॉगिंग ट्रैक पर अतिक्रमण हुआ, जिसे हटाने के लिए तीन सालों से नगरसेविका पाटिल प्रयास कर रही है।  महानगरपालिका इसके लिए कोरोना का कारण बता रही है।  सरकार ने लॉक डाउन शिथिल करने के बाद अतिक्रमण निर्मूलन विभाग कार्रवाई के लिए गया, लेकिन कार्रवाई नहीं की।

    नगरसेविका ने नाराजगी व्यक्त की

    त्र्यंबकेश्वर रोड के मुख्य सड़क पर म्हाडा की नई इमारत के नजदीक श्रीराम सर्कल के पास होने वाली झोपड़िया स्थानिय नागरिकों को परेशान कर रही है।  रात के समय यहां के निवासी शराब सेवन कर यहां के नागरिकों से झगड़ा करते है।  इस बारे में पुलिस प्रशासन को भी जानकारी दी गई है।  परंतु कार्रवाई न होने से नगरसेविका ने नाराजगी व्यक्त की।  अतिक्रमण निर्मूलन विभाग के संबंधित अधिकारी जवाब देने के लिए बैठक में उपस्थित न होने से नगरसेविका पाटिल ने ठिया आंदोलन किया, जिसे सभी सदस्यों ने समर्थन दिया।  बैठक में प्रभारी विभागीय अधिकारी नितीन राजपूत, नगरसेविका इंदुबाई नागरे, अलका आहिरे, हेमलता कांडेकर, नयना गांगुर्डे, नगरसेवक रवींद्र धिवरे, असरकारी सदस्य दशरथ लोखंडे सहित मनपा के विविध विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। 

    कब होगी सड़कों के कामकाज की जांच?

    मनसे के नगरसेवक और स्थायी समिति सदस्य सलिम शेख ने सड़कों के कामकाज की जांच करें? अन्यथा विभागीय कार्यालय के बाहर आंदोलन करने की चेतावनी दी।  पेवर ब्लाँक बिछाई जगह पर सड़क का कांक्रिटिकरण कैसे किया गया? और पपया नर्सरी से साई मंदिर की ओर जाने वाले सड़क की जगह बदलने का आरोप नगरसेवक शेख ने किया।