arrest
File

    नाशिक. फर्जी ई-मेल आईडी (Fake E-Mail ID) के जरिए शहर के स्टर्लिंग मोटर्स (Sterling Motors) स्थापना के साथ 18 लाख 79 हजार 700 रुपए की धोखाधड़ी (Fraud) करने वाले दो बदमाशों को पुलिस (Police) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) से गिरफ्तार (Arrested) किया है। इस मामले में फरवरी माह में साइबर पुलिस ने मामला दर्ज किया था। मामले की जांच के दौरान पुलिस ने उत्तर प्रदेश के हफुवा बलराम के फैयाज मन्सुरी (24) व उत्तर प्रदेश के बाथना कुटी के प्रेमसागर महेश राम (21) को गिरफ्तार किया। 

    साइबर पुलिस थाना के पुलिस निरीक्षक देवराज बोरसे और उनकी टीम 9 मार्च से यूपी गोपालगंज में जाल बिछाकर बैठे हुए थे। इस दौरान उन्होंने दो बदमाशों को गिरफ्तार किया। कोर्ट ने दोनों बदमाशों को जांच के लिए पुलिस को सौंप दिया। बदमाशों ने 4 से 5 फरवरी के बीच फोन और ई-मेल आईडी की मदद से बैंक और स्टर्लिंग मोटर्स के साथ धोखाधड़ी की थी। इस स्थापना के माध्यम से बड़े पैमाने पर आर्थिक लेन-देन होते हैं। 

    खाते से रकम निकाली 

    बैंक के प्राधान्य ग्राहकों में स्टर्लिंग मोटर्स और उसके मालिक फिरोज मिस्त्री होने के कारण फोन अथवा ई-मेल के माध्यम से बैंक आर्थिक व्यवहार पूर्ण करते हैं। इसका फायदा उठाकर बदमाशों ने 4 फरवरी को मिस्त्री के नाम से बैंक में फोन किया। तत्काल पेमेंट करने की बात कहीं। इसके बाद स्टर्लिंग मोटर्स कंपनी के अधिकृत ई-मेल की तरह फर्जी ई-मेल बनाकर उस पर अधिकृत दिखने वाले लेटर हेड का उपयोग करते हुए मिस्त्री के खाते से रकम निकाली गई। इसकी जानकारी मिलने के बाद मिस्त्री ने तत्काल बैंक के साथ संपर्क किया। बैंक ने फोन काल और ई-मेल की जानकारी लेने पर वह फर्जी निकला। इसके बाद धोखाधड़ी का खुलासा हुआ।