Warning of agitation for not paying honorarium

    तलोदा. तलोदा में एकीकृत आदिवासी विकास परियोजना (Tribal Development Project) के तहत वेतन भोगी वर्ग 3 और 4 के कर्मचारियों (Employees) को पिछले वर्ष का मानदेय (Honorarium) मिलना चाहिए और वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के कर्मचारियों की नियुक्ति की जानी चाहिए। अन्यथा तलोदा परियोजना कार्यालय (Taloda Project Office) के सभी कर्मचारियों को 23 सितंबर से तीव्र आंदोलन शुरू करने की चेतावनी दी गई है।

    इस संबंध में तलोदा परियोजना अधिकारी को दिए गए ज्ञापन में कहा गया है कि तलोदा परियोजना के अंतर्गत 42 सरकारी शासकीय आश्रम शाला और 17 वस्तीगृहों में कुल 600 दैनिक मजदूरी कर्मचारी 3 और 4 के कर्मचारी 15 से 20 सालों से सेवा दे रहे हैं। कोविड-19 के दिनों में इन कर्मचारियों को काम से ना निकाला जाए, उनकी उपजीविका के लिए मानधन अदा करें एैसी सूचना प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने मौखिक सूचना दी थी। जिसके अनुसार धुलिया और नंदुरबार परियोजनाओं के अंतर्गत रोजंदारी वर्ग के 3 और 4 कर्मचारियों को मानधन और नियुक्तियां दी गई हैं।

    लेकिन तलोदा परियोजना के अंतर्गत डेली वेजेस कर्मचारियों को मानधन और नियुक्तियां नहीं दी गईं। पिछले वर्ष के कोविड काल का मानधन अदा करें और चालू शैक्षणिक वर्ष में नियुक्तियां दी जाएं अन्यथा 23 सितंबर से तलोदा परियोजना कार्यालय में डेली वेजेस 3 और 4 कर्मचारी सहपरिवार आंदोलन करेंगे। आगे होने वाले परिणाम के लिए  प्रशासन जिम्मेदार होगा एैसा इशारा ज्ञापन में दिया गया है। डेली वेजेस वर्ग 3 और 4 के कर्मचारियों ने दिया है।