Why did Chhota Rajan threaten Shiv Sena MLA Suhas Kande, know what is the whole matter

    नाशिक. शिवसेना विधायक (Shiv Sena MLA) सुहास कांदे (Suhas Kande) को अंडरवर्ल्ड डॉन (Underworld Don) छोटा राजन गिरोह से धमकी भरा फोन आया है कि छगन भुजबल (Chhagan Bhujbal) के खिलाफ योजना समिति के फंड को बेचने के लिए दायर याचिका को वापस लिया जाए। समझा जाता है कि कांदे ने इस संबंध में पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखा है।

    राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री और नाशिक के पालक मंत्री छगन भुजबल 11 सितंबर को उत्तरी महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित इलाकों के दौरे पर थे। उस समय तहसील कार्यालय में अधिकारियों के सामने छगन भुजबल और शिवसेना विधायक सुहास कांदे में तीखी नोकझोंक हुई थी। विवाद इमरजेंसी फंडिंग को लेकर था। इसलिए समीक्षा बैठक में हड़कंप मच गया। विधायक सुहास कांदे के समर्थकों ने पालक मंत्री के सामने जमकर नारेबाजी की। कांदे ने उत्तर महाराष्ट्र में बाढ़ कोष से तत्काल मदद मांगी। उन्होंने तत्काल मदद की मांग की जैसा कि उन्होंने सांगली-कोल्हापुर बाढ़ के दौरान दिया था।

    हाईकोर्ट में याचिका दायर

    भुजबल ने कहा कि इस समय भी उतनी ही मदद की जाएगी। हालांकि दोनों के बीच अनबन चर्चा का विषय रही। उसके बाद विधायक कांदे ने भुजबल के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। इसमें छगन भुजबल पर कांदे ने सनसनीखेज आरोप लगाया है कि उन्होंने योजना समिति के फंड को बेच दिया है। याचिका में प्रतिवादी के तौर पर कलेक्टर और जिला योजना अधिकारी को भी नामित किया गया है। इतना ही नहीं, विधायक सुहास कांदे ने दावा किया है कि उनके पास 500 सबूत हैं कि छगन भुजबल ने फंड बेचा है।

    याचिका  वापस लेने की धमकी

    पता चला है कि शिवसेना विधायक सुहास कांदे को मंगलवार को एक फोन आया था जिसमें फोन करने वाले ने कांदे की ओर से दायर याचिका को वापस लेने की धमकी दी थी। अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के भतीजे अक्षय निकालजे ने 9664666676 इस नंबर से फोन किया और कांदे को याचिका वापस लेने के लिए जोर दिया। याचिका वापस नहीं ली तो तुम्हारा हम से सामना हुआ है यह समझ लो, एैसी धमकी दी गई। बताया जा रहा है कि कांदे ने फोन करने के बाद पुलिस कमिश्नर से शिकायत की। महानगरपालिका चुनाव से पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और शिवसेना के नेताओं में खडाजंगी चर्चा का विषय बन गई है।