cinema hall
(Photo Credits: File Photo)

    मुंबई. जहाँ एक तरफ देशभर (India) में कोरोना वायरस (Corona Virus) के मामलों में अब काफी कमी आ गई है। वहीं एक समय महाराष्ट्र (Maharashtra) में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे थे, लेकिन अब राज्य करे हालात में काफी सुधर हैं। ऐसे में महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने दुकानों और रेस्टोरेंट्स के खुलने का समय अब और बढ़ाने का फैसला लिया है। बता दें कि वर्तमान समय में दुकानों और रेस्टोरेंट्स को 50% क्षमता के साथ सुबह 7 बजे से लेकर रात 10 बजे के बीच ही खोलने की इजाजत है।

    CM उद्धव ठाकरे की टास्क फोर्स से हुई थी मीटिंग

    इस बाबत महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे ने बीते रविवार को राज्य की टास्क फोर्स से एक मीटिंग की थी, जिसमें कई बड़े और अहम फैसले लिए गए। रेस्टोरेंट्स और दुकानों को खोलने के समय को भी अब कितना बढ़ाया जाएगा, इसके बारे में आने वाले समय में व्यापक गाइडलाइंस जारी की जायेंगी ।

    इसके साथ ही उद्धव सरकार ने आगामी 22 अक्टूबर से थिएटर और मल्टीप्लेक्स के साथ एम्यूजमेंट पार्क्स को भी खोलने का बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री ने पिछले महीने घोषणा की थी कि महाराष्ट्र में सिनेमा हॉल और ड्रामा थिएटर बीते 22 अक्टूबर से इस शर्त पर फिर से खुल सकते हैं, यदि वे कोरोनो वायरस के प्रसार को रोकने के लिए आवश्यक सभी प्रोटोकॉल का पालन भी करें।

    गौरतलब है कि महाराष्ट्र राज्य सरकार ने इसके संबंध में स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) जारी कर दिया था । माना जा रहा है कि राज्य में कम होते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने यह फैसला लिया था। हाल ही में सरकार ने नियमों के साथ धार्मिक स्थलों को दोबारा शुरू करने की अनुमति दी थी।

    ये होंगे नए नियम

    • थिएटर/मल्टीप्लेक्स/सिनेमा/ऑडिटोरियम में कुल क्षमता के 50%लोग ही बैठ सकेंगे। 
    • दर्शकों के पास आरोग्य सेतु ऐप पर सेफ स्टेटस दिखाना जरूरी होगा, कोविड-19 वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट भी दिखा सकते हैं। 
    • फूड कोर्ट या साफ सफाई में तैनात स्टाफ के कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगना और दूसरे डोज के बाद 14 दिन गुजरना जरूरी है।
    • टिकट बुकिंग, खाने-पीने की चीजें खरीदने के लिए डिजिटल पेमेंट का ही इस्तेमाल होगा। 
    • पार्किंग लॉट में भीड़ संभालना होगा और आने वाले को थर्मल स्क्रीनिंग होगी। 
    • केवल एसिम्प्टोमैटिक लोगों को ही आने की अनुमति होगी। 
    • मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, खांसते या छींकते वक्त चेहरे को ढांकने, नियमित रूप से हाथ धोने जैसे कोविड प्रोटोकॉल्स का पालन किया जाएगा। 
    • स्क्रीनिंग हॉल में खाने या पीने की चीजें प्रतिबंधित रहेंगी।

    ड्रामा थिएटर्स के लिए ये हैं खास नियम

    • केवल नामित लोगों को ही पर्दे, स्टेज के पीछे की चीजों आदि के संचालन करेंगे।
    • कलाकारों और सहायकों को नियमित रूप से मेडिकल जांच करनी होगी। 
    • हर रोज सेट और ग्रीन रूम को केमिकल से डिसइंफेक्ट करना होगा। 
    • बैकस्टेज और ग्रीन रूम में किसी गेस्ट को आने की अनुमति नहीं होगी। 
    • ऑडिटोरियम की सफाई की जिम्मेदारी प्रबंधन की ही होगी।
    • बाल कलाकारों को भी सेफ स्टेटस दिखा रही आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल करना होगा। साथ ही उनकी नियमित जांच भी होगी।

    हालाँकि महाराष्ट्र सरकार की ओर से जारी बयान में उद्धव ठाकरे के हवाले से कहा गया था, ”अब हम पाबंदियों में धीरे-धीरे ढील दे रहे हैं और मरीजों की संख्या भी अब कम होती दिख रही है। अब हम 22 अक्टूबर से सिनेमाघरों और एम्यूजमेंट पार्क्स को भी फिर से खोल रहे हैं। रेस्टोरेंट्स और दुकानों के काम के घंटे के बढ़ाए जाने की भी लगातार मांग हो रही थी।” इसके साथ ही CM ठाकरे ने अधिकारियों को रेस्टोरेंट्स और दुकानों के संचालन के घंटे बढ़ाने के लिए जरुरी दिशानिर्देश तैयार करने का निर्देश दिया है।