eknath shinde
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (फाइल फोटो)

Loading

पालघर. महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) ने शनिवार को शिवसेना (Shiv Sena) कार्यकर्ताओं से विपक्ष के आरोपों को नजरअंदाज करने और इसके बजाय आगामी आम चुनाव में राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन को लोकसभा की 45 से अधिक सीट पर जीत दिलाने के लिए प्रयास करने का आग्रह किया। महाराष्ट्र में, लोकसभा की कुल 48 सीट है। पालघर जिले के मनोर में पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना (यूबीटी) और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जब वे सत्ता में थे तब उनका केवल एक ही एजेंडा था “कटौती, कमीशन और भ्रष्टाचार”।

शिंदे ने कहा कि विपक्ष बेबुनियाद आरोप लगा रहा है क्योंकि वह ‘महायुति’ द्वारा तेज गति से किए जा रहे काम को हजम नहीं कर पा रहा है। ‘महायुति’ के घटक दल शिंदे के नेतृत्व वाली शिवसेना, भारतीय जनता पार्टी और अजित पवार के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी है। उन्होंने कहा, “जिस प्रकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने घोषणा की है…‘इस बार, 400 पार’, महाराष्ट्र से भी 45 से अधिक ज्यादा सीट आनी चाहिए।”

शिंदे ने हाल ही में राजनीतिक नेताओं से जुड़ी गोलीबारी की घटनाओं के मद्देनजर विपक्ष के आरोपों और उनके इस्तीफे की मांग पर भी जवाब दिया। मुंबई में शिवसेना (यूबीटी) नेता अभिषेक घोसालकर की बृहस्पतिवार को ‘फेसबुक लाइव’ के दौरान गोली मारकर हत्या की दी गई जिसके बाद सरकार को विपक्ष की तीखी आलोचना का सामना करना पड़ा है।

पिछले हफ्ते भाजपा के एक विधायक ने कल्याण के एक शिवसेना नेता को गोली मारकर घायल कर दिया था। शिंदे ने कहा कि पुलिस अपना काम कर रही है और गृह मंत्री (देवेंद्र फडणवीस) अपने विभाग का प्रबंधन करने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा, “निश्चित तौर पर ये घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण थीं, लेकिन सच्चाई ज्यादा दिनों तक छिपी नहीं रह सकती।”

शिंदे ने पुलिस को “खुली छूट” देने की मांग को लेकर विपक्ष पर पलटवार करते हुए कहा कि लोगों ने देखा है कि जब ये पार्टियां सरकार चला रही थीं तो क्या हुआ था। उन्होंने कहा, “100 करोड़ रुपये का संग्रह हुआ और तत्कालीन गृह मंत्री को जेल हो गई।”

राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति खराब होने के विपक्ष के आरोप के जवाब में मुख्यमंत्री ने पालघर जिले में 2020 में साधु की भीड़ द्वारा पीटकर हत्या, अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत और उनकी मैनेजर दिशा सालियान की मौत तथा उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक लदा एक वाहन मिलने का जिक्र किया। (एजेंसी)