BJP President JP Nadda
भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा चुनावी रैली को संबोधित करते हुए

अध्यक्ष जे. पी. नड्डा ने कहा कि देश में विपक्षी दल अब अपनी वंशवादी राजनीति को बचाने के लिए पूरी कोशिश कर रहे हैं, चाहे वह शरद पवार के नेतृत्व वाली राकांपा (एसपी) हो या फिर उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना (यूबीटी)।

Loading

मुंबई. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे. पी. नड्डा ने रविवार को विपक्षी दलों की आलोचना करते हुए दावा किया कि ये पार्टियां अपनी वंशवादी राजनीति को बचाने की पुरजोर कोशिश कर रही हैं। नड्डा ने महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा ने पिछले 10 वर्षों में एक स्थिर सरकार दी है और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में “तीन तलाक” और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों का समाधान किया गया। उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले राजनीतिक दल अपने घोषणा पत्र में बड़े-बड़े दावे करते थे और सत्ता में आने के बाद उन्हें पूरा करना भूल जाते थे।

नड्डा ने कहा, “देश में विपक्षी दल अब अपनी वंशवादी राजनीति को बचाने के लिए पूरी कोशिश कर रहे हैं, चाहे वह शरद पवार के नेतृत्व वाली राकांपा (एसपी) हो या फिर उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना (यूबीटी)।”

उन्होंने कहा कि भाजपा ने पिछले 10 वर्षों में एक स्थिर सरकार दी है, जिससे तीन तलाक और राम मंदिर निर्माण जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों का हल करने में मदद मिली। उन्होंने कहा, “हमने बेघर लोगों को हजारों आवास उपलब्ध कराए और विभिन्न सरकारी योजनाओं को लोगों तक पहुंचाया, जिससे ग्रामीण लोगों का जीवन स्तर बेहतर हुआ।”

नड्डा ने कहा कि भाजपा नीत सरकार नागरिकता (संशोधन) अधिनियम लाई, जो उत्पीड़ित हिंदुओं, पारसियों और ईसाइयों (पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत आए) को भारतीय नागरिकता प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने उनकी मदद के लिए कभी ऐसे कदम नहीं उठाए।

नड्डा ने कहा, “मोदी के सत्ता में आने के बाद देश की राजनीति बदल गई और सरकार लोगों के प्रति अधिक जवाबदेह हो गई। एक तरह से सरकार अधिक जिम्मेदार हो गई है।” महाराष्ट्र में बुलढाणा और सात अन्य लोकसभा सीट पर 26 अप्रैल को मतदान होना है। (एजेंसी)