multi-layered mask can reduce the spread of infection by 96 percent, know the whole matter: Research
Representative Image

    पुणे : कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के मद्देनजर पुणे जिले (Pune District) के करीब 10 लाख नागरिकों (Citizens) के खिलाफ पाबंदियों (Restrictions) का उल्लंघन करने और मास्क न पहनने पर कार्रवाई की गई है और उनसे 45 करोड़ 73 लाख 21 हजार 563 रुपये का जुर्माना वसूल किये जाने की जानकारी प्राप्त हुई है। उल्लेखनीय है कि नियमों का पालन नहीं करने वाले अधिकांश नागरिक पुणे नगर निगम क्षेत्र के हैं और पुणे नगर निगम (Municipal Corporation) के 5 लाख 68 हजार नागरिकों पर 28 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

    कोरोना महामारी के मद्देनज़र जिला प्रशासन ने समय-समय पर केंद्र और राज्य सरकारों के निर्देशानुसार एहतियात के तौर पर नागरिकों पर विभिन्न नियम-कायदे लागू किए थे। मास्क की भी अनिवार्यता की गई। प्रशासन के निर्देश के बावजूद कई नागरिक अभी भी मास्क नहीं पहने हुए हैं और नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे नागरिकों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है। जुर्माना वसूलने का अधिकार पुलिस, पुलिस मित्रों, स्वास्थ्य कर्मियों, नगर निगम कर्मचारियों को दिया गया है। जिला प्रशासन के अनुसार पुणे जिले में अब तक 10 लाख नागरिकों को दंडित किया गया है और उनसे 45 करोड़ 73 लाख 21 हजार 563 रुपये जुर्माना वसूल किया गया है।

    पुलिस प्रशासन द्वारा सबसे अधिक मामले पिंपरी नगरपालिका क्षेत्र में दर्ज किए गए

    जिले में सबसे ज्यादा वसूला गया जुर्माना पुणे नगर निगम का है और निगम क्षेत्र के 5 लाख 68 हजार नागरिकों पर 28 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इसके साथ ही पिंपरी चिंचवड़ नगर निगम सीमा में नियमों का उल्लंघन करने वाले 1 लाख 12 हजार 697 नागरिकों पर कार्रवाई करते हुए 6 करोड़ 90 लाख रुपये का जुर्माना वसूल किया गया है। पुणे जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के 3 लाख 23 हजार उपद्रवी नागरिकों पर निवारक उपायों के तहत 11 करोड़ 53 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। जिले में पिछले सप्ताह यानी 2 दिसंबर से 8 दिसंबर तक नियमों का उल्लंघन करने पर नागरिकों से 5 लाख 72 हजार रुपये का जुर्माना वसूला गया है। सप्ताह के दौरान 894 नागरिकों को दंडित किया गया। पुलिस प्रशासन द्वारा सबसे अधिक मामले पिंपरी नगरपालिका क्षेत्र में दर्ज किए गए हैं और 524 नागरिकों से 3 लाख 63 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया है।