mohan joshi

    पुणे. केंद्र सरकार (Central Government) की महत्वाकांक्षी स्मार्ट सिटी परियोजना (Smart City Project) को ठगी की योजना बताकर कांग्रेस (Congress) के प्रदेश उपाध्यक्ष और पूर्व विधायक मोहन जोशी (Former MLA Mohan Joshi) ने कहा कि पुणे में पिछले पांच वर्षों में बड़ी परियोजना साकार करने में पुणे महानगरपालिका (Pune Municipal Corporation) की सत्ताधारी भाजपा (BJP) असफल रही है। आनेवाले चुनाव की पृष्ठभूमि पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मुलाकात और बैठक करने की मुहिम मोहन जोशी ने शुरू की है। इस कड़ी में संपन्न हुई एक बैठक में बोलते हुए भाजपा के असफलता की कहानी मोहन जोशी ने सुनाई। 

    उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार में पर्यावरण विभाग के मंत्री की जिम्मेदारी मिलने के बाद भी मुला मुठा नदी सुधार को योजना प्रकाश जावड़ेकर पूरी नहीं कर पाए। ट्रैफिक की समस्या, 24 घंटे जलापूर्ति परियोजना, रेलवे फ्लाईओवर, पीएमसी की आय बढ़ाने, झोपड़पट्टी सुधार, नदी किनारे की सड़क जैसी योजनाएं पूरी नहीं कर पाए। 

    मेट्रो का  काम तीन वर्षों तक रुका रहा

    भाजपा के राज्य सरकार के काल में मेट्रो का  काम तीन वर्षों तक रुका रहा। भाजपा के काल में मनपा की आर्थिक स्थिति डगमगा गई। इसकी वजह से स्थायी समिति अध्यक्ष और पीएमसी कमिश्नर में विवाद हो गया। केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी योजना प्रायोगिक तौर पर ही फंस गई। इस योजना की प्रशासकीय बनावट केंद्र सरकार को पसंद नहीं आई।  योजना के पुणे सहित 100 शहरों की स्मार्ट सिटी की फजीहत हो गई है।