SRA project

    पुणे. राज्य सरकार की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद पुणे (Pune) और पिंपरी-चिंचवड़ (Pimpri-Chinchwad) इलाके में झुग्गी धारकों को अब 300 वर्ग फुट के फ्लैट (Flat) मिल सकेंगे। यह प्रावधान स्लम पुनर्वास परियोजना के लिए राज्य सरकार द्वारा अनुमोदित संशोधित नियमों के मसौदे में किया गया था। इसके लिए एफएसआई (FSI) के अधिकतम तीन तक उपयोग की सीमा को हटा दिया गया है और कम से कम चार एफएसआई दिए गए हैं। इसलिए पुणे और पिंपरी-चिंचवड़ में झुग्गीवासियों को अब मुंबई (Mumbai) की तर्ज पर 300 वर्ग फुट के फ्लैट मिलेंगे।

    राज्य सरकार द्वारा झुग्गी पुनर्वास प्राधिकरण के संशोधित निर्माण नियमों को मंजूरी देने के बाद मसौदा जारी किया गया था। नागरिकों से आपत्तियां मांगी गई हैं। स्लम पुनर्वास योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए नियमों में कई बदलाव किए गए। इसमें झोपड़ी मालिकों को 269 वर्ग फुट की जगह 300 वर्ग फुट का मकान मिलेगा। हालांकि सिर्फ 51 फीसदी लोगों ने ही इस पर सहमति जताई है, इस योजना को लागू किया जाएगा। 

    नागरिकों को मिलेगी काफी राहत 

    वर्तमान में पुणे और पिंपरी-चिंचवड़ में कई झुग्गी पुनर्वास परियोजनाएं लंबित हैं। शहरों में करीब 600 झुग्गी बस्तियां हैं। हालांकि राज्य सरकार के फैसले से दोनों शहरों में झुग्गी-झोपड़ी मुक्त शहर बन सकते हैं। 300 फुट का घर होने से नागरिकों को काफी राहत मिलेगी।