पिंपरी-चिंचवड में कॉम्बिंग ऑपरेशन, गिरफ्तार हुए 81 अपराधी

    Loading

    पिंपरी: पिंपरी-चिंचवड पुलिस ()Pimpri-Chinchwad Police) द्वारा गुरुवार की मध्यरात्रि से तड़के 5 बजे तक आयुक्तालय की सीमा में अलग-अलग जगहों पर एक साथ कॉम्बिंग ऑपरेशन (Combing Operation) चलाया गया। इसमें पुलिस रिकॉर्ड (Police Records) पर दर्ज शातिर बदमाश, हिस्ट्रीशीटर, मवाली आदि 81 बदमाशों (Criminals) को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। इस ऑपरेशन में सभी पुलिस थाने, क्राइम ब्रांच के सभी यूनिट और दस्ते शामिल हुए।  

    क्राइम ब्रांच यूनिट-एक से पांच, एंटी रैंसम स्क्वॉड, एंटी-रॉबरी स्क्वॉड, एंटी आर्म्स स्क्वॉड ने गुरुवार आधी रात से सुबह 5 बजे तक कॉम्बिंग ऑपरेशन चलाया। क्राइम ब्रांच यूनिट- 4 की टीम ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम 1951 की धारा 37 (3) के तहत अवैध रूप से हथियार रखने के दो मामले दर्ज किए गए। पुलिस ने 56,650 रुपए की कीमत का एक लोहे का कोयता, एक मोबाइल फोन और अपराध में इस्तेमाल किया गया एक दोपहिया वाहन भी जब्त किया है।

    130 आरोपियों की रिकॉर्ड की जांच की गई

    इस ऑपरेशन में कुल 130 आरोपियों की रिकॉर्ड की जांच की गई। इनमें से 60 आरोपी मिले।  52 हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की जांच की गई जिसमें से 15 बदमाश पाए गए। 18 गुंडे, मवालियों की जांच की गई। इनमें से छह बदमाशों को गिरफ्तार किया गया और तलाशी अभियान के दौरान प्रत्यर्पण के 95 आरोपित, 12 फरार आरोपित, 84 वांछित आरोपी और लूट के पांच आरोपियों की तलाशी ली गयी। पुलिस फरार बदमाशों की तलाश कर रही है। क्राइम ब्रांच की तरह पुलिस थानों की ओर से कॉम्बिंग ऑपरेशन भी चलाया गया। 

    शराबबंदी अधिनियम के तहत पांच लोगों के खिलाफ कार्रवाई 

    महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम के तहत पांच लोगों के खिलाफ देर रात तक घूमने, 10 लोगों के खिलाफ देर रात तक होटल खुला रखने, 15 लोगों को दंगा करने और छह अन्य के खिलाफ महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। महाराष्ट्र शराबबंदी अधिनियम के तहत पांच लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई।  साथ ही दो व्यक्तियों को गैर जमानती वारंट पर गिरफ्तार किया गया और पांच व्यक्तियों को वारंट जारी किया गया। इसके साथ ही एक आरोपी को आईपीसी की धारा 379 के तहत गिरफ्तार किया गया है।