Farmer from Solapur, Maharashtra seeks permission to cultivate Cannabis in his farm, police says its a publicity stunt
Representative Photo

    पुणे/पिंपरी. पुणे पुलिस (Pune Police) के नशीले पदार्थ विरोधी दस्ते ने कोंढवा (Kondhwa) के भाग्योदय नगर से एक महिला के पास से साढ़े छह लाख रुपए का गांजा (Ganja) और चरस (Charas) बरामद किया है। वहीं पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस (Pimpri-Chinchwad Police) ने भी पिंपरी के भाटनगर इलाके से दो महिलाओं को हिरासत में लेकर उनके पास से करीबन पांच किलो गांजा जब्त किया है। पुणे पुलिस की कार्रवाई में गिरफ्तार की गई महिला का नाम समिना मेहमुद शेख (35) है। 

    पुणे पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, समीना ने अपने घर लर गांजा और चरस का स्टॉक रखा है, ऐसा नशीले पदार्थ विरोधी दस्ते को मुखबिर से पता चला। इसके अनुसार पुलिस ने उसके घर पर छापा मारा। पुलिस टीम को उसके घर से 21 किलो 260 ग्राम गांजा और 569 ग्राम 17 मिली ग्राम चरस मिला। बरामद गांजा के स्टॉक की कीमत सवा चार लाख 200 रुपए है, जबकि चरस का मूल्य दो लाख 27 हजार 668 रुपए बताया गया है। इस कार्रवाई में पुलिस ने समीना को गिरफ्तार कर उसके पास से कुल छह लाख 57 हजार 868 रुपए का गांजा और चरस बरामद किया है।

    पिंपरी में भी करीबन 5 किलो गांजा जब्त

    वहीं, पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस के पिंपरी विभाग के सहायक पुलिस आयुक्त के स्क्वाड को पिंपरी के भाटनगर इलाके की इमारत के एक घर से गांजा बिक्री शुरु रहने की जानकारी मिली थी। इसके अनुसार, पुलिस टीम ने यहां छापा मारा। यहां से पुलिस ने 75 हजार 350 रुपए का 4 किलो 913 ग्राम गांजा का स्टॉक बरामद किया। इस कार्रवाई में दो महिलाओं के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस बारे में पुलिस उपनिरीक्षक सुब्राव भीमराव गवारे ने पिंपरी पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पूछताछ में पता चला है कि ये महिलाएं रेखा पोपटसिंह तामचीकर के कहने पर गांजा बिक्री करती थी। बहरहाल पिंपरी पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।