File Photo
File Photo

    पुणे. मौसम विभाग ने पुणे जिले (Pune District) के घाट इलाके में भारी बारिश की चेतावनी दी है। उसके अनुसार पुणे सहित कोंकण (Konkan) के रायगढ़ (Raigad), पालघर (Palghar), रत्नागिरी (Ratnagiri), कोल्हापुर (Kolhapur) और सातारा (Satara) जिलों में भी भारी बारिश का अनुमान है।

    पुणे शहर में सामेवार को दिन भर आसमान में बादल छाए रहे। रह-रह कर  तेज बारिश भी हुई। जिससे मौसम सुहाना हो गया। पिछले काफी दिनों से शहर में दमदार बारिश नहीं हुई है। बीच-बीच में बूंदाबांदी हो जाती थी। सोमवार को पुणे शहर में 9.1 मिमी, पाषाण में 11.6 मिमी और लोहगांव में 11 मिमी बारिश हुई।

    पश्चिम महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश

    इसी तरह से लवले में 18.5, एनडीए में 6, गिरिवन 62, दुदुलगांव 5, शिवाजीनगर 7, मालिन (अम्बेगांव) 59, तालेगांव धामधेरे 2, पाशन 11.5, बल्लालवाड़ी (जुन्नर) 21, एनईएस लकड़ी (इंदापुर) 9.5, मगरपट्टा 1.5, पाबल (शिरूर) , वडगांव शेरी 3.5, खडकवाड़ी (अम्बेगांव) 2, वेताले (खेड़) 8, वाल्हे (पुरंदर) 0.5 मिमी बारिश हुई। पुणे के अलावा पश्चिम महाराष्ट्र के सातारा, कोल्हापुर, जिले के घाट क्षेत्र में मूसलाधार बारिश की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। इसके चलते घाट क्षेत्रों से गुजरते समय वाहन चालकों से सावधानी बरतने की अपील की गई है। रविवार की सुबह  24 घंटे के भीतर घाट में 170 मिमी बारिश दर्ज की गई।  डुंगरवाड़ी में 130, शिरगांव दावड़ी में 120, लोनावला में 80, खोपोली में 70 मिमी बारिश दर्ज की गई है।

    राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश का अनुमान

    मौसम विभाग ने राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश का अनुमान जताया है। उत्तरी कोंकण में अधिक बारिश की संभावना है।  विदर्भ में मूसलाधार बारिश की संभावना व्यक्त की गई है।

    खड़कवासला और टेमघर से छोड़ा जा रहा

    रूक-रूक कर हो रही बारिश के चलते पुणे को जलापूर्ति करनेवाले खड़कवासला और टेमघर जलाशयों से पानी छोड़ा जा रहा है। ये जलाशय भर गए हैं। उसी तरह से वीर बांध से एक बार फिर पानी छोड़ा गया। वीर बांध की जल क्षमता बढ़ गई है,  इसलिए जल संसाधन विभाग ने जानकारी दी कि वीर बांध से सोमवार दोपहर 12 बजे के बाद बड़ी मात्रा में पानी छोड़ा गया। इसे देखते हुए नदी किनारे के गांवों को अलर्ट कर दिया गया है। 9.83 टीएमसी पानी की क्षमता वाले वीर बांध में सोमवार सुबह नौ बजे 95।60 फीसदी पानी जमा हो गया है।  वर्तमान में बांध की बायीं नहर से 827 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है, लेकिन बांध में 21 हजार क्यूसेक पानी आ रहा है। इस साल 24 जुलाई को वीर डैम शत-प्रतिशत फुल हो गया था।  उस समय बांध से 22 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया था।